महारानी एलिज़ाबेथ द्वितीय का ताबूत पहुंचा लंदन,  अंत्येष्टि में पांच दिन बाकी

महारानी एलिज़ाबेथ द्वितीय

महारानी एलिज़ाबेथ द्वितीय



राजघराने की सेवा में रहने वाली यूनिटों के सैनिक प्लेटफॉर्म के हर कोने की रात-दिन निगरानी करेंगे

खबरिस्तान नेटवर्क, लंदन। ब्रिटेन में महारानी एलिज़ाबेथ द्वितीय का पार्थिव शरीर मंगलवार रात लंदन में राजनिवास बकिंघम पैलेस पहुंच गया। लंदन में बुधवार को उनके ताबूत को एक यात्रा या जुलूस की शक्ल में वेस्टमिंस्टर हॉल ले जाया जाएगा। बीबीसी के मुताबिक पांच दिन बाद 19 सितंबर को राजकीय सम्मान के साथ उनकी अंत्येष्टि की जाएगी। महारानी के ताबूत को लेकर बकिंघम पैलेस से स्थानीय समयानुसार दोपहर 2:22 बजे यात्रा शुरू होगी। लगभग आधे घंटे बाद दोपहर 3:00 बजे इसके वेस्टमिंस्टर हॉल पहुँच जाने का अनुमान है।जुलूस में किंग चार्ल्स और उनके दोनों बेटे - प्रिंस विलियम और प्रिंस हैरी - महारानी के ताबूत के पीछे-पीछे बकिंघम पैलेस से वेस्टमिंस्टर हॉल तक पैदल चलेंगे। किंग चार्ल्स के तीन भाई-बहन - प्रिंसेज़ ऐन, प्रिंस एंड्र्यू और प्रिंस एडवर्ड - भी जुलूस में पैदल चलेंगे।किंग चार्ल्स की पत्नी,  क्वीन कॉन्सोर्ट कैमिला और प्रिंस विलियम की पत्नी, प्रिंसेज़ ऑफ़ वेल्स कैथरीन कार से जुलूस में जाएँगी। प्रिंस हैरी की पत्नी,  डचेस ऑफ़ ससेक्स मेघन और काउंटेस ऑफ़ वेसेक्स सोफ़ी भी कार में होंगी। जुलूस सेंट्रल लंदन से गुजरेगा. इस दौरान ये क्वीन्स गार्डन्स,  द मॉल,  हॉर्स गार्ड्स आर्च,  व्हाइटहॉल,  पार्लियामेंट स्ट्रीट,  पार्लियामेंट स्क्वायर और न्यू पैलेस यार्ड से होकर आगे जाएगा। इस यात्रा के दौरान हाइड पार्क में बंदूक दागी जाएगी और बिग बेन की घंटी बजाई जाएगी।ताबूत पर इंपीरियल स्टेट क्राउन (राजमुकुट) रखा जाएगा और इसे किंग की सैन्य टुकड़ी रॉयल हॉर्स आर्टिलरी की एक तोपगाड़ी पर ले जाया जाएगा। जुलूस के वेस्टमिंस्टर हॉल पहुँचने के बाद चर्च ऑफ़ इंग्लैंड के आर्चबिशप ऑफ़ केंटरबरी लगभग 20 मिनट तक रस्म अदा करेंगे।वेस्टमिंस्टर हॉल में महारानी का पार्थिव शरीर चार दिनों तक लाई-इन-स्टेट में रहेगा। यानी इस दौरान ताबूत को अंतिम संस्कार से पहले अंतिम दर्शन के लिए खुले में रखा जाएगा।

19 सितंबर को साढ़े छह बजे तक महारानी के अंतिम दर्शन कर सकेंगे 


ताबूत वेस्टमिन्स्टर हॉल दोपहर तीन बजे पहुंचेगा। यहां पर इसे एक ऊंचे प्लेटफॉर्म पर रखा जाएगा। राजघराने की सेवा में रहने वाली यूनिटों के सैनिक प्लेटफॉर्म के हर कोने की रात-दिन निगरानी करेंगे। आम लोग बुधवार शाम पांच बजे से 19 सितंबर की सुबह साढ़े छह बजे तक यहां महारानी के अंतिम दर्शन कर सकेंगे।सरकार की ओर से लोगों को ये बता दिया गया है कि उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए घंटों या रात भर लाइन में खड़े रहना पड़ सकता है। वहां बैठने की व्यवस्था नहीं होगी क्योंकि लाइन लगातार आगे बढ़ती रहेगी। वेस्टमिंस्टर हॉल ब्रिटेन की संसद वाले इलाक़े वेस्टमिंस्टर एस्टेट में स्थित है। ग्यारहवीं सदी का बना ये हॉल वेस्टमिंस्टर का सबसे पुराना हिस्सा है। गौरतलब है कि महारानी का 96 वर्ष की उम्र में गत आठ सितंबर को निधन हो गया था।

Related Tags


Queen Elizabeth II coffin reached London five days left for the funeral

Related Links


webkhabristan