चीन में बाढ़ का मंजर, अब तक 25 लोगों की हो चुकी मौत, देखें तस्वीरें



12 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं। पौने दो लाख से ज्यादा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है, मेट्रो ट्रेन में पानी भरने से मरने वालों की संख्या 12

वेब ख़बरिस्तान, बीजिंग। चीन के हेनान प्रांत में मौसम ने कहर बरपाया है। एक हजार साल की सबसे भीषण बारिश से भयावह बाढ़ के हालात बने हुए हैं। एक दर्जन से अधिक शहर जलमग्न हो गए हैं। टनल में फंसी मैट्रो में पानी भर गया और स्टेशनों से लोग निकल नहीं पाए। यिचुआन में उफनती नदी के पानी को मो़ड़ने के लिए सेना को एक क्षतिग्रस्त बांध को उ़़डाना पड़ा है। कई नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं।

ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार 12 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं। पौने दो लाख से ज्यादा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। अब तक 25 लोगों की मौत हो चुकी है, इनमें मेट्रो ट्रेन में पानी भरने से मरने वाले 12 लोग शामिल हैं। मेट्रो सुरंगें पूरी तरह जलमग्न हो गई हैं। राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने कहा है कि राहत कार्य मुश्किल भरा है।

फ्लाइटें रद

झेंगझोऊ रेलवे स्टेशन से जाने वाली करीब 160 ट्रेन रोक दी गई हैं। हजारों लोग बिना बिजली-पानी के रहने को मजबूर हैं। सैकड़ों फ्लाइट रद कर दी गई हैं। बाढ़ में बौद्ध भिक्षुओं का शाओलिन मंदिर भी घिरा हुआ है। यह मंदिर मार्शल आर्ट के कारण विश्व प्रसिद्ध है।


मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सबवे ट्रेनों में फंसे यात्री जान बचाने के लिए हैंडलबार से चिपककर राहत दल का इंतजार कर रहे थे। ये लोग गर्दन तक पानी में डूबे हुए थे। बाढ़से घिरी सबवे ट्रेनों से 500 लोगों को राहत दलों ने निकाला है। हेनान प्रांत के एक दर्जन शहरों में पानी भरा हुआ है।

आगे का मौसम

मौसम विभाग का अगले तीन दिनों तक बारिश का अनुमान है। झेंगझोऊ में शनिवार से मंगलवार तक 617.1 मिमी. तक बारिश हो गई थी। यह पूरे साल की औसतन 640.8 मिमी. बारिश के लगभग बराबर है। ऐसी बारिश हजार साल बाद हुई है।

Related Links