यूनेस्को की अमूर्त सांस्कृतिक विरासत सूची में कंबोडिया की मार्शल आर्ट



रूपरेखा मंगलवार को मोरक्को के रबात में अमूर्त सांस्कृतिक विरासत की सुरक्षा के लिए अंतर सरकारी समिति के 17वें सत्र के दौरान बनाई गयी थी।

नोम पेन्ह (वार्ता) कंबोडिया की पारंपरिक मार्शल आर्ट ‘कुन लबोकेटर’ को मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक विरासत की यूनेस्को की प्रतिनिधि सूची में शामिल किया गया है। कंबोडिया के संस्कृति और ललित कला मंत्रालय ने यह जानकारी दी है। बयान में कहा गया है कि इसकी रूपरेखा मंगलवार को मोरक्को के रबात में अमूर्त सांस्कृतिक विरासत की सुरक्षा के लिए अंतर सरकारी समिति के 17वें सत्र के दौरान बनाई गयी थी।

उच्च प्रतिबद्धता और मजबूत प्रयासों से संभव

बयान में कहा गया, “यह एक बड़ी सफलता है और राष्ट्र के लिए गर्व का एक नया स्रोत है, जो कि कंबोडियाई प्रधानमंत्री सैमडेच टेको हुन सेन के सुदृढ़ नेतृत्व में सरकार द्वारा किए गए उच्च प्रतिबद्धता और मजबूत प्रयासों से संभव हुआ है। 


सांस्कृतिक विरासत की प्रतिनिधि सूची में सूचीबद्ध

सेन ने हमेशा राष्ट्रीय सांस्कृतिक विरासत और मूल्यों की रक्षा और प्रचार किया है।” यूनेस्को की वेबसाइट पर पोस्ट की गई एक समाचार विज्ञप्ति के अनुसार, कुन लबोकेटर को मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक विरासत की प्रतिनिधि सूची में सूचीबद्ध किया गया है।

चिकित्सकों की मानसिक व शारीरिक शक्ति विकसित

विज्ञप्ति में कहा गया है कि कुन लबोकेटर पहली शताब्दी की एक मार्शल आर्ट है, जिसका उद्देश्य आत्मरक्षा तकनीकों और अहिंसा के दर्शन के माध्यम से अपने चिकित्सकों की मानसिक और शारीरिक शक्ति तथा अनुशासन को विकसित करना है।

व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाईन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें

https://chat.whatsapp.com/LVthntNnesqI4isHuJwth3

Related Tags


Cambodia martial arts UNESCO cultural heritage list intangible cultural heritage list Phnom Penh World International Khabristan News

Related Links