दुनिया

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ के ‘खास’ ऑडियो लीक, होगी करोड़ों में नीलामी

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ के ‘खास’ ऑडियो लीक, होगी करोड़ों में नीलामी

खबरिस्तान नेटवर्क। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ का आडियो टेप लीक होने की खबर है। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) के नेता और पाकिस्तान के पूर्व मंत्री फवाद चौधरी ने दावा किया कि शहबाज की लीक ऑडियो टेप 115 घंटे लंबी है। लीक ऑडियो क्लिप को 35 लाख डॉलर (पाकिस्तानी करेंसी के अनुसार 8.53 करोड़ और भारतीय करेंसी मुताबिक 2.84 करोड़) में डार्क वेब पर नीलामी के लिए रखा गया है। चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) भी अब सुरक्षित नहीं है। पीएमओ का ऑडियो लीक होना भी सुरक्षा एजेंसियों की नाकामी है। उन्होंने दावा किया कि ऑडियो लीक को लेकर लंदन में फैसले लिए जा रहे हैं।क्या है लीक ऑडियो में दावा है कि लीक ऑडियो में पाकिस्तान मुस्लिम लीग-एन की उपाध्यक्ष मरियम नवाज, रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ, कानून मंत्री आजम तरार, गृह मंत्री राणा सनाउल्लाह और नेशनल असेंबली के पूर्व अध्यक्ष अयाज सादिक और प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ के बीच बातचीत है। पाकिस्तानी अखबार डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक ऑडियो क्लिप में पीएमएल-एन की उपाध्यक्ष मरियम और पीएम शहबाज के बीच देश के वित्त मंत्री मिफ्ता इस्माइल के बारे में कथित तौर पर बातचीत सुन सकते हैं। वित्त मंत्री को कथित तौर पर कड़े आर्थिक कदम उठाने के लिए पार्टी के भीतर से आलोचना का सामना करना पड़ा था। मरियम को घेरा चौधरी ने पीएमएल-एन की उपाध्यक्ष मरियम नवाज की आलोचना करते हुए कहा कि राजनेता ने सार्वजनिक रूप से ईंधन वृद्धि का विरोध किया था, लेकिन लीक ऑडियो में वह ईंधन की कीमतें बढ़ाने के लिए कह रही थीं।वित्त मंत्री को हटाने पर टिप्पणी करते हुए पीटीआई नेता ने कहा कि पीएमएल-एन सिर्फ इशाक डार को वापस लाने के लिए मिफ्ता इस्माइल को बदनाम कर रहा है। उन्होंने कहा कि इस्माइल ने लंबे समय तक पीएमएल-एन की सेवा की थी। ऑडियो लीक मामले की जांच शुरू पाकिस्तान के गृह मंत्री राणा सनाउल्लाह ने कहा कि पीएम शहबाज शरीफ ने ऑडियो लीक का संज्ञान लिया है और जांच शुरू कर दी गई है। सनाउल्लाह ने कहा कि लीक हुए ऑडियो की जांच में सभी एजेंसियों के उच्च स्तरीय अधिकारी शामिल होंगे। एआरवाई न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, उन्होंने आगे कहा कि जांच से पता चलेगा कि पीएम आवास की सुरक्षा भंग हुई या नहीं। हालांकि, मंत्री ने ये भी दावा किया कि भले ही पीएम हाउस में सभी बातचीत सार्वजनिक हो जाएं, लेकिन इनमें कुछ भी शर्मनाक नहीं होगा।

https://webkhabristan.com/world/pakistani-pm-shahbaz-sharifs-special-audio-leaked-will-be-auctioned-in-crores-12542
इजरायल शांति में विश्वास नहीं करता, अब शांति प्रक्रिया में फिलिस्तीन का भागीदार नहीः अब्बास

इजरायल शांति में विश्वास नहीं करता, अब शांति प्रक्रिया में फिलिस्तीन का भागीदार नहीः अब्बास

वेब खबरिस्तान, संयुक्त राष्ट्र। फिलिस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने कहा है कि इजरायल ने शांति प्रक्रिया में फिलीस्तीन का भागीदार नहीं बनने का फैसला किया है और उसके साथ वैसा ही व्यवहार किया जाएगा। अब्बास ने कहा कि फिलिस्तीन देश अन्य अंतरराष्ट्रीय संगठनों में शामिल होने के लिए भी परिग्रहण प्रक्रिया शुरू करेगा।अब्बास ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव से संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों और अरब शांति पहल के अनुरूप, क्षेत्र में शांति, सुरक्षा और स्थिरता प्राप्त करने के लिए फिलिस्तीन की भूमि पर कब्जे को समाप्त करने के लिए एक अंतरराष्ट्रीय योजना के बारे में विस्तार से बताने का भी आह्वान किया। संयुक्त राष्ट्र महासभा की आम बहस में अपने भाषण में अब्बास ने कहा, यह स्पष्ट है कि अंतरराष्ट्रीय वैधता के प्रस्तावों की अनदेखी कर रहे इजरायल ने शांति प्रक्रिया में हमारा भागीदार नहीं बनने का फैसला किया है। इजरायल ने ओस्लो समझौते को किया कमजोर इजरायल ने ओस्लो समझौते को कमजोर कर दिया है जिस पर उसने फिलिस्तीन लिबरेशन ऑर्गेनाइजेशन (पीलओ) के साथ हस्ताक्षर किए थे। उन्होंने कहा कि इजरायल अपनी सोची समझी नीतियों के माध्यम से दो देशीय समाधान को नष्ट कर रहा है। उन्होंने कहा कि यह स्पष्ट रूप से साबित करता है कि इजरायल शांति में विश्वास नहीं करता है। यह बल और आक्रामकता से यथास्थिति लागू करने में विश्वास करता है। अब्बास ने कहा कि इसलिए, हमारे पास अब कोई इजरायली साथी नहीं है जिससे हम बात कर सकें। इस प्रकार इजरायल हमारे साथ अपने अनुबंधात्मक संबंध को समाप्त कर रहा है। उन्होंने कहा कि फ़िलिस्तीन 1993 में इजरायल के साथ हुए समझौतों का सम्मान करने वाला एकमात्र पक्ष बने रहना स्वीकार नहीं करता है। उन्होंने कहा कि इजरायल के लगातार उल्लंघन के कारण वे समझौते अब मान्य नहीं हैं।उन्होंने कहा कि इसलिए यह हमारा अधिकार है, बल्कि, हमारा दायित्व है कि हम अन्य साधनों की तलाश करें, अपने अधिकारों को पुनः प्राप्त करें और न्याय पर निर्मित शांति प्राप्त करें, जिसमें हमारे नेतृत्व, विशेष रूप से हमारी संसद द्वारा अपनाए गए प्रस्तावों को लागू करना शामिल है। उन्होंने कहा कि फिलिस्तीन शांति की ओर देख रहा है। आइए हम अपनी पीढ़ी और क्षेत्र के सभी लोगों के लाभ के लिए इस शांति को सुरक्षा, स्थिरता और समृद्धि में रहने के वास्ते बनाएं।

https://webkhabristan.com/world/israel-does-not-believe-in-peace-no-longer-a-participant-in-palestine-peace--12458
पाकिस्तान में भोजन की कोई कमी नहीं : अधिकारी

https://webkhabristan.com/world/there-is-no-shortage-of-food-in-pakistan-12456
म्यांमार में सेना के हेलीकॉप्टर ने किया स्कूल पर हमला : 13 लोगों की मौत जिनमें से 7 बच्चे

https://webkhabristan.com/world/army-helicopter-strikes-school-in-myanmar-13-killed-7-of-them-children-12336
महारानी एलिजाबेथ के अंतिम संस्कार आज, 2000 मेहमान करेंगे शिरकत

महारानी एलिजाबेथ के अंतिम संस्कार आज, 2000 मेहमान करेंगे शिरकत

खबरिस्तान नेटवर्क, लंदन। शॉर्लोट और जॉर्ज अपनी परदादी क्वींन एलिजाबेथ द्वितीय के अंतिम संस्कार में शामिल। इसके अलावा एलिजाबेथ के अंतिम संस्कार में क्वीन प्रिंस जॉर्ज और राजकुमारी शॉर्लोट वेस्टमिंस्टर एब्बे सहित 2,000 से अधिक देश-विदेशों के मेहमान भी शामिल होंगे। ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का सोमवार को राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा। अंतिम संस्कार वेस्टमिंस्टर एबे में होगा, जिसमें विभिन्न देशों के राष्ट्राध्यक्षों सहित करीब 2000 मेहमानों के शामिल होने की संभावना है। सूत्रों के अनुसार ताबूत के चर्च में प्रवेश करते ही उसके बाद नौ वर्षीय जॉर्ज और उनकी सात वर्षीय बहन, शाही परिवार के साथ एक शवयात्रा का हिस्सा बनेंगे। अंतिम संस्कार से पहले 96 मिनट तक हर मिनट एक घंटी बजती रहेगी, जो एलिजाबेथ के जीवन के आधारित वर्षों की अवधि को चिह्नित करती है। उनके सम्मान में दो मिनट का मौन रखा जाएगा। अंतिम संस्कार से पहले 96 मिनट तक हर मिनट एक घंटी बजती रहेगी विश्व के नेताओं और गणमान्य व्यक्ति अंतिम संस्कार स्थानीय समयानुसार 11 बजे 13वीं शताब्दी के चर्च में एकत्र हुए, राजा और रानी कंसोर्ट रानी के ताबूत के पीछे लोगों का जुलूस देखा गया। जॉर्ज और शॉर्लोट के चार वर्षीय छोटे भाई लुई के भाग लेने की उम्मीद नहीं है। प्रधानमंत्री लिज़ ट्रस वेस्टमिंस्टर के रोमन कैथोलिक आर्कबिशप कार्डिनल विंसेंट निकोल्स सहित धार्मिक नेताओं की प्रार्थनाओं के साथ एक पाठ पढ़ेंगे। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू महारानी एलिजाबेथ को श्रद्धांजलि भारत की राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के राजकीय अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए शनिवार शाम लंदन पहुंच गई थी। श्रीमती मुर्मू ने रविवार को वेस्टमिंस्टर हॉल में दिवंगत महारानी को श्रद्धांजलि दी, जहां एलिजाबेथ द्वितीय का पार्थिव शरीर रखा गया है। आज महारानी की अंतिम विदाई होगी। वहीं, अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन और उनकी पत्नी जिल बाइडन ने भी उन्हें श्रद्धांजलि दी। श्री बाइडेन अपनी पत्नी के साथ रविवार को लंदन के वेस्टमिंस्टर हॉल में पहुंचे और दिवंगत महारानी के ताबूत के पास निर्धारित स्थान पर जाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

https://webkhabristan.com/world/queen-elizabeth-funeral-today-and-2000-guests-will-attend-12298
नाइजीरिया सड़क हादसे में 19 की मौत, आठ घायल

नाइजीरिया सड़क हादसे में 19 की मौत, आठ घायल

खबिरस्तान नेटवर्क, अबुजा। नाइजीरिया की राजधानी अबुजा में तीन वाहनों की टक्कर में कम से कम 19 लोगों की मौत हो गई और आठ अन्य गंभीर रूप से घायल हो गये। संघीय सड़क सुरक्षा कोर के कार्यवाहक राष्ट्रीय प्रमुख दाउद बीउ ने मौके की यात्रा के दौरान संवाददाताओं को यह जानकारी दी। घटना रविवार को हुई जब दो बसें अबुजा के बाहरी इलाके में यांगोजी-ग्वागवालाडा रोड के किनारे एक ट्रक से टकरा गईं।बीउ ने कहा कि तीनों वाहन टकराने के बाद आग की लपटों में घिर गए। उन्होंने घातक दुर्घटना को ओवरस्पीड और गलत तरीके से ओवरटेक करने के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि इसके परिणामस्वरूप चालकों ने वाहनों पर से अंततः नियंत्रण खो दिया। पीड़ितों की पहचान नहीं की जा सकी है क्योंकि वे काफी जल गए थे और उन्हें संरक्षित नहीं किया जा सकता था। उन्होंने बताया,“19 लाशें फंसी हुई थीं, लेकिन बचावकर्मियों ने उन्हें बाहर निकाला।” उन्होंने बताया कि पुलिस ने घटना की जांच शुरू कर दी है। उन्होंने मोटर चालकों को सड़क सुरक्षा दिशानिर्देशों का उल्लंघन करने और अन्य सड़क उपयोगकर्ताओं, विशेष रूप से यात्रियों को चेतावनी दी है कि वे हमेशा वाणिज्यिक वाहन चालकों को ओवरस्पीडिंग के प्रति सावधान करें।

https://webkhabristan.com/world/19-people-killed-and-eight-injured-in-nigeria-road-accident-12296
ताइवान में 6.9 तीव्रता के भूकंप से कांपी धरती, भूंकप का केंद्र 10 किमी निचे, जापान में सुनामी का alert

ताइवान में 6.9 तीव्रता के भूकंप से कांपी धरती, भूंकप का केंद्र 10 किमी निचे, जापान में सुनामी का alert

वेब ख़बरिस्तान। एक शक्तिशाली भूकंप के झटकों से रविवार को ताइवान की धरती कांप उठी। जानकारी अनुसार 6.9 तीव्रता का भूकंप आया। झटके इतनी तेज थे कि यहां की एक दो मंजिला इमारत ढह गई और एक जगह पर ट्रेन के पटरी से उतर जाने की सूचना है। भूकंप के झटके दोपहर 2:44 मिनट (स्थानीय समयानुसार) पर शहर के उत्तर में 50 किलोमीटर तक भूकंप के झटके महसूस हुए। यूएस जियोलॉजिकल सर्वे के मुताबिक, भूकंप का केंद्र 10 किलोमीटर नीचे था। बताया गया कि दो मंजिला इमारत के गिरने के बाद दो घायलों को निकाला गया है। भूकंप के झटकों के बाद एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें लोग जान बचाने के लिए इमारत से बाहर निकलते हुए दिखाई दे रहे हैं। कई जगह भूकंप की तीव्रता सात से ऊपर हालांकि, कुछ रिपोर्ट्स में यह भी कहा जा रहा है कि ताइवान के युजिंग से 85 किमी दूर भूकंप की तीव्रता 7.2 रिकॉर्ड की गई। यह भूकंप स्थानीय समयानुसार छह बजकर 44 मिनट पर महसूस किए गए। इसका केंद्र जमीन से 10 किमी अंदर था। जापान में सुनामी का अलर्ट जापान के मौसम विज्ञान विभाग की ओर से सुनामी का अलर्ट जारी किया गया है। यहां नागरिकों को अंधेरा होने से पहले दक्षिणी टापू कयूशु खाली करने के लिए कहा है। रविवार को यहां भीषण तूफान आने की आशंका है। इसके कारण 20 इंच तक बारिश हो सकती है। कहा गया है कि ताइवान से जुड़े द्वीप पर सुनामी का खतरा बना हुआ है।

https://webkhabristan.com/world/earth-trembles-due-to-earthquake-of-69-magnitude-in-taiwan-12281
webkhabristan