हाई हील्स के साथ साथ बहुत से फुटवियर देते हैं बॉडी को नुकसान



उंगलियां दर्द का कारण हैं प्वाइंटेड शूज

वेब ख़बरिस्तान। stylish दिखना किसे पसंद नहीं होता। हर महिला खुद को बेहद स्टाइलिश दिखना चाहती है फिर चाहे वह बालों की बात हो या फिर कपड़ों की, इतना ही नहीं महिलाएं फुटवियर पर भी बहुत ध्यान देती हैं। हर छोटी से छोटी डिटेल पर फोकस करती हुई स्टाइल स्टेटमेंट क्रिएट करना उनको काफ़ी पसंद होता है। लेकिन आपको बता दें फुटवियर केवल स्टाइल के लिए ही नहीं होते बल्कि वह पहनने में कितने comfortable हैं उस बात पर भी ध्यान रखना बेहद जरूरी है। अगर जूते के कंफर्ट को दरकिनार कर दिया जाए तो स्टाइलिश फुटवियर कैरी करने का भी कोई लाभ नहीं मिलता। उल्टा यह हमारी बॉडी को नुकसान देते हैं। बहुत बार यह सुनने में आता है की हाई हील्स हमारे पैरों को नुक्सान देते हैं। लेकिन सिर्फ हाई हील्स ही नहीं बल्कि ऐसे बहुत से फुटवियर हगें जो हमारे पैरों के साथ साथ हमारी हेल्थ पर भी बुरा असर डालते हैं। ऐसे ही फुटवियर के बारे में आपको बताते हैं।

फ्लैट शूज का comfortable होना

कहते हैं फ्लैट शूज पहनने में सबसे ज्यादा कंफर्टेबल होते हैं। लेकिन कभी-कभी फ्लैट शूज भी पैरों को नुकसान देते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि उनके पास कोई आर्च सपोर्ट नहीं रहता है। जिसके कारण घुटनों और पीठ में दर्द का अनुभव होने लगता है। हालांकि, इसका अर्थ यह नहीं है कि आप फ्लैट जूतों को पहनना ही छोड़ देंगे। इसके लिए जरूरी है कि आप केवल ऑर्थोटिक इंसर्ट खरीद लें और फिर उसे फुटवियर पर इंसर्ट करके फ्लैट शूज को आराम से पहन सकते हैं। इससे आपके पैरों की स्थिति को बेहतर हो पायेगी।   

डेली प्लेटफार्म जूतें पहनना हो सकता है नुक्सानदायक


प्लेटफार्म जूते पहनने में अच्छे तो लगते हैं। लेकिन यह शूज अधिक फ्लेक्सिबल नहीं होते हैं।  इनमें कठोर फुट बेड होने के कारण यह पैरों में दर्द होने का कारण बनते हैं। ऐसे में अगर इन्हें हर दिन पहना जा रहा है  तो इससे पैरों को काफी नुकसान उठाना पड़ सकता है। यह आपके वॉकिंग के मैकेनिज्म को भी बिगाड़ सकता है। इसलिए इसे सोच समझ कर और कभी-कभार ही पहनना चाहिए।  

उंगलियां दर्द का कारण हैं प्वाइंटेड शूज

प्वाइंटेड शूज पहनने के लिए थोड़ी प्रैक्टिस की जरूरत होती है। यह शूज देखने में बेहद ही स्टाइलिश लगते हैं और एक फेमिनिन टच भी देते हैं। लेकिन लंबे समय तक प्वाइंटेड शूज पहनना पैरों के लिए नुक्सानदायक होता है। वे बहुत टाइट होने के कारण पैरों की उंगलियों पर बहुत अधिक दबाव डालते हैं जिससे उंगलियां दर्द करने लगती है। जिन लोगों को यह शूज पहनने की आदत नहीं उनको इसे पहनने से पहले थोडा ध्यान रखना होगा। इसलिए, अगर आप प्वाइंटेड शूज पहनने का मन बना रही हैं, तो उसे कैरी करने से पहले यह चेक जरूर करें कि उसमें आपके पैर पूरी तरह से कंफर्टेबल हो रहे हैं या नहीं।  

हल्के और सॉफ्ट रनिंग शूज हरदम पहनना

जब भी रनिंग करें तो रनिंग शूज पहनना ही लाभदायक होता है। रनिंग शूज के लिए सॉफ्ट और हलके जूते ही होने चाहिए, वर्ना वाक करते टाइम पैर दर्द होने शुरू हो सकते हैं। आपको बता दें कुछ महिलाएं रनिंग शूज को हर दिन और हर टाइम पहनना शुरू कर देती हैं  क्योंकि वे बहुत आरामदायक और हल्के होते हैं। लेकिन यह आपके पैरों को प्रभावित भी करते हैं क्योंकि वे बहुत लचीले और नरम होते हैं। बेहतर होगा कि आप रनिंग शूज को केवल रनिंग के लिए ही रहने दें।

इस ख़बर में दी गयी जानकारी आपको जागरूकता मात्र के लिए दी गयी है। अगर आपको पैरों से सम्बंधित कोई दिक्कत या परेशानी चल रही है तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें और अपने पैरों के लिए एक बेहतर विकल्प ढूंढे।

Related Links