अंजीर खाने से होता है वेट लोस



मेटाबॉलिज्म स्ट्रोंग होता है

वेब ख़बरिस्तान।  इनदिनों अपनी हेल्थ को लेकर हर कोई अवेयर हो गया है। हेल्थ को कैसे अच्छा रखा जा सकता है उसके लिए बहुत तरह से अपनी डाइट में भी कण्ट्रोल करते है। लेकिन आपको बता दें अंजीर की हेल्प से बहुत ही आसानी से वेट लोस किया जा सकता है। अंजीर बहुत से पोषक तत्वों से भरपूर है। यह वजन कम करने में काफी सहायक है और निकले हुए तोंद को शेप में लाने में भी हेल्पफूल है। आप इसे कैलोरी कण्ट्रोल संतुलित आहार के हिस्से के रूप में भी शामिल कर सकते हैं। अंजीर को आप फ्रेश, गीलाकर के या सुखाकर अपनी डाइट में ऐड कर सकते हैं। अंजीर वजन कम करने के लिए किस तरह से फायदेमंद है, तो आप इस ख़बर का सहारा ले सकते हैं।

अंजीर में हाई फाइबर होता है   

इसमें भारी मात्रा में फाइबर होता है जो पेट को लंबे समय तक भरा रखने में हेल्प करता है। अगर आप हर दिन अंजीर का स्वं करते हैं तो यह आपकी कैलोरी को बर्न करता है। अंजीर में फाइबर की उपस्थिति के साथ, यह आंत्र प्रणाली को शुरू करने में मदद करता है जो बदले में digestive सिस्टम को मजबूत बनाता है।

पाचन में मदद करता है


digestive एंजाइम होने के कारण इसे फिकिन कहा जाता है। यह अन्य एंजाइमों के साथ मिलकर पाचन तंत्र को बनाए रखने में हेल्प करता है। इसके सेवन से भोजन को जल्दी पचाने में मदद मिलती है। पाचन तंत्र को स्वस्थ रखकर वजन कम करने के साथ-साथ पेट की चर्बी कम करने में बहुत लाभदायक है अंजीर।

अंजीर में होता है ओमेगा 3 फैटी एसिड

अंजीर में ओमेगा -3 फैटी एसिड होता है जो एक्सरसाइज करते टाइम मांसपेशियों में अधिक कैलोरी जलाने में हेल्प करता है। यह वजन घटाने की यात्रा में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है। यह हार्ट प्रोब्लेम्स को होने से भी रोकता है। यदि हार्ट पेशेंट इसका स्वं हर रोज करते हैं तो उनको काफी लाभ मिलता है।  

मेटाबॉलिज्म स्ट्रोंग होता है

अंजीर में खनिज तत्व होने कारण वजन घटाने में कफी हेल्प मिलती है। कैल्शियम, पोटेशियम, फास्फोरस, मैंगनीज, तांबा, मैग्नीशियम जैसे खनिज इसमें मौजूद होते हैं।  इसके अलावा इसमें विटामिन ए और बी की उपस्थिति के कारण पचाने की दर को तेज करने में मदद मिलती है जिससे मेटाबोलिज्म तेज और स्ट्रोंग होता है।  

कैलोरी कम करने में मदद करता है

अंजीर में बहुत कम मात्रा में कैलोरी होती है। आप इसे स्नैक्स के रूप में खा सकते हैं। हालांकि, अंजीर का अधिक मात्रा में सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि यह थोडा मीठा होता है और बॉडी के अनुकूल होने में इसे टाइम लग जाता है।

इस ख़बर में दी गयी जानकारी आपको जागरूकता मात्रा के लिए दी गयी है। अगर आप पहले से ही किसी गंभीर बीमारी से ग्रस्त हैं , तो अपने डॉक्टर से जरूर सलाह लें।

Related Links