ओमिक्रोन के हैं लक्षण, तो हो जाएं सावधान!



दोनों डोज लेने के बावजूद अगर आप में ये लक्षण दिखें तो हो सकते हैं ओमीक्रोन के संकेत

वेब ख़बरिस्तान। भारत में कोरोना के नए वैरिएंट ओमीक्रोन के मामले दिनोंदिन बढ़ते ही जा रहे हैं। ऐसे में राज्य सरकारों ने अपने अपने तरीके से इससे निपटने के लिए उपाय कर रहे हैं। आपको बता दें, पूरे देश में अब तक ओमीक्रोन के लगभग 781 मामले सामने आ चुके हैं, जिसमें 238 केस अकेले दिल्ली के ही हैं। वहीँ महाराष्ट्र में 167 मरीजों के केस सामने आये हैं। इतना ही नहीं कोरोना की दोनों डोज़ लेने वाले व्यक्ति भी कोरोना के नए वैरिएंट ओमीक्रोन का शिकार हो सकते हैं, तो आइए जानते हैं कि कौन-कौन से ऐसे लक्षण हैं जो दोनों डोज लेने वाले व्यक्ति को ओमीक्रोन अपने चपेट में ले रहा है।

काफी दिनों तक खांसी हो, तो तुरंत डॉक्टर को दिखाएं

कोरोना के नए वैरिएंट ओमीक्रोन के शिकार लोगों में यह लक्षण पाया गया है। आपको भी खांसी आ रही है और ठीक नहीं हो रही, तो अपना तुरंत कोरोना टेस्ट करवाएं क्योंकि इस ओमीक्रोन के लक्षणों में यह सबसे खास लक्षण पाया गया है। डॉक्टर्स के मुताबिक आम खांसी और कोरोना के लक्षण वाले खांसी अलग है, इसलिए जब आपको ऐसा लगे की आपको लंबे समय से खांसी आ रही है या अभी आप कुछ दिनों से खांसी महसूस कर रहे हैं तो जल्द ही अपना कोरोना टेस्ट करवा लें।

नाक का बहना

अगर आपका नाक लगातार बह रहा है और उससे पानी भी निकल रहा हैं तो ऐसे में यह कोरोना के नए वैरिएंट ओमीक्रोन के लक्षण की तरफ इशारा करता है। डाक्टरों का कहना है कि वैसे तो सर्दियों में नाक का बहना आम बात मानी जाती है।  लेकिन ओमोक्रोन के बढ़ते मामलों को देखते हुए अगर यह नाक का बहना रुक नहीं रहा और लंबे समय तक परेशान कर रहा है, तो ऐसे में टेस्ट जल्द से जल्द जरूर कराए।

बिना काम के भी शरीर को थकावट महसूस होना


आपको बता दें ओमीक्रोन आपके शरीर पर अटैक कर उसे कमजोर बनाता है। ऐसे में आप अपने बॅाडी में यदि थकावट फील कर रहे हैं, तो एक बार डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए। वैसे हर समय शरीर में थकावट महसूस होना भी एक तरह की बीमारी मानी जाती है। लेकिन कोरोना के इस काल में जब आपका शरीर जवाब दे जाये और हर वक्त आपको थकावट फील,  तो ऐसे में तुरंत डॅाक्टर को कंसल्ट करें और अपनी जांच अच्छे से करवाएं।

गले में खिंचखिचाहट/स्क्रैची थ्रोट का होना

एक्सपर्ट्स के अनुसार, ओमीक्रोन के लक्षणों में स्क्रैची थ्रोट भी एक लक्षण पाया गया है। इसमें गला अंदर से छिल जाता है। वहीं डेल्टा वैरिएंट में गले में खराश की प्रॉब्लम होने लगती है। सर्दियों में ऐसा देखा जाता है कि लोगों के गले अंदर से छिल जाते है, लेकिन अगर यह आपको लगे कि गला ज्यादा तंग कर रहा है तो ऐसे में कोरोना का टेस्ट कराना न भूलें।

सिरदर्द की शिकायत

ओमिक्रोन वैरिएंट में सर में दर्द की शिकायत सामने आती है।  ऐसे में यदि सर दर्द की शिकायत हो रही है, तो डॅाक्टर को दिखाएं। डॉक्टर्स के मुताबिक उनके पास कई ऐसे लोग भी आते हैं जिनमें आम सर दर्द के लक्षण होते हैं। वहीँ कुछ असी पेशेंट हैं जिनको आम सिरदर्द नहीं हैं,उन्हें जो सर दर्द हो रहे थे, वे कोरोना के लक्षण है। ऐसे में डॅाक्टरों ने ऐसे लोगों को तुरंत टेस्ट करवाने की सलाह दी है।

मांसपेशियों में जकड़न या दर्द होना

सर्दियों में हड्डियों और मासपेशियों में दर्द होना आम बात है।  लेकिन अगर आपको ओमीक्रोन है तो आपकी मांसपेशियों में दर्द होना आम बात है। यदि आपको ऐसा लगर है तो आप तुरंत दोकोर को दिखाएँ।

बुखार का होना

बुखार ऐसा लक्षण है जो कोरोना के समय भी देखने को मिला था। अब इस लक्षण को कोरोना के नए वैरिएंट ओमीक्रोन में भी देखा जा रहा है। आपको बता दें यदि आपको भी आये दिन बुखार हो रहा है, तो अपना टेस्ट जल्दी करवाएं।

तो यह थी कोरोना के नए वैरिएंट ओमीक्रोन के लक्षण जो कोविड के दोनो डोज लेने वालों के अंदर भी पाया जा रहा है।  अगर इनमें से एक भी लक्षण आपको अपने अंदर देखने को मिल रहा है तो ऐसे में देर न करते हुए तुरंत डॉक्टर के पास जायें और अपना कोरोना टेस्ट करवाएं।

Related Links