हेल्दी माइंड विद जापानी वाटर थेरेपी



ठीक रखता है मेटाबोलिज्म रेट

वेब ख़बरिस्तान। अक्सर यह देखा जाता है बहुत से लोग पानी खड़े होकर पीते हैं। इतना ही नहीं पानी को खाना खाने से पहले या बाद में तुरंत पीते हैं। इसके अलावा  ऐसे बहुत से सवाल mind में आते हैं। लेकिन लोग ऐसे सवालों के जवाब जानने की कोशिश ही नहीं करते। तो हम आपको कुछ खास तरह की थेरेपी के बारे में बताने वाले हैं, जिसको जापानी वाटर थेरेपी के नाम से जाना जाता हैं।

सीक्रेट वाटर थेरेपी ट्रिक

आपने आज तक अच्छी सेहत बनाए रखने के लिए डॉक्टरों को पानी पीने की सलाह देते हुए सुना होगा। पानी पीने से व्यक्ति की कई स्वास्थ्य समस्याएं अपने आप ही ठीक हो जाती हैं। पर्याप्त मात्रा में पानी पीने से व्यक्ति की बॉडी न सिर्फ हाइड्रेटेड रहती है बल्कि उसके शरीर में मौजूदा टॉक्सिंस भी बाहर निकलकर व्यक्ति के चेहरे की चमक को बनाए रखने का काम करते हैं। यही वजह है कि जापानी लोगों की स्किन चमकती है और वो हमेशा जवां दिखते हैं। अक्सर लोग अपना वजन कम करने के लिए सुबह उठकर निम्बू और शहद मिला कर भी पीते हैं। माना जाता है कि ऐसा करने से व्यक्ति का वजन घटता है। इन सबके बीच क्या आपने कभी जापानी लोगों के पानी पीने के तरीके पर गौर किया है। आप सोच रहे होंगे आखिर जापानी लोगों के पानी पीने के तरीके में ऐसा क्या खास होता है, तो आपको बता दें कि जापानी लोग पानी पीने के लिए एक खास ट्रिक अपनाते हैं। जिसकी वजह से वो बड़ी आसानी से अपना कई किलो वजन कम कर लेते हैं। आइए जानते हैं आखिर क्या है उनकी ये सीक्रेट वाटर थेरेपी ट्रिक।

सुबह उठते ही पानी पीना


जापानी लेडीज की चमकती स्किन का सीक्रेट सुबह उठने के बाद बिना ब्रश किए पहले पानी पीना है। यह पानी हल्का गर्म होता है। पानी पीने के 45 मिनट बाद ही जापानी लोग नाश्ता करते हैं। सबसे खास बात यह है कि वो एक मील के दौरान सिर्फ 15 मिनट तक खाना खाते हैं और दूसरे मील के बीच कम से कम 2 घंटे का अंतर जरूर रखते हैं।

ठीक रखता है मेटाबोलिज्म रेट

वैसे तो हम सभी को पता है कि खाना खाने के तुरंत बाद पानी का सेवन नहीं करना चाहिए। लेकिन हम सब जानते हुए भी ऐसा नहीं करते। वहीँ जापानी लोग इस बात को स्ट्रिक्टली फॉलो करते हैं कि खाना खाने के 1 घंटे पहले पानी पीना चाहिए और खाने के दो घंटे बाद तक पानी नहीं पीना चाहिए। क्योंकि यह हम सबके मेटाबॉलिज्म रेट पर असर डालता है।

हर किसी को लेनी चाहिए वाटर थेरेपीः निहारिका

इसके बारे में जानने के लिए हमने बात की mind योगा इंस्ट्रक्टर निहारिका बिआला से। जो इस थेरेपी को बहुत अच्छे से फॉलो करती हैं। उन्होंने बताया कि इस थेरेपी का सीधा असर हमारे mind पर भी पड़ता है। क्यों कि जब हमारा पेट अच्छे से साफ रहेगा तो हमारा mind और मूड दोनों ही अच्छे रहेंगे। उन्होंने कहा कि जब पेट अपसेट रहता है तो इस स्थिति में गुस्सा आना भी लाजमी है। इसलिए इस वाटर थेरेपी को हर किसी को अपनी लाइफस्टाइल में शामिल करना चाहिए।

इस ख़बर में दी गई जानकारी आपको जागरूकता मात्रा के लिए दी गयी है। अगर आप ऊपर बताई हुई जानकारी को अमल में लाना चाहते हैं तो अपने डॉक्टर या एक्सरसाइज एक्सपर्ट से एक बार जरूर कंसल्ट कर लें।

Related Links