Ramsay Hunt Syndrome: आधे चेहरे पर पैरालिसिस का हो जाना, जानें लक्षण



हॉलीवुड सिंगर जस्टिन बीबर हैं Ramsay Hunt Syndrome बीमारी से ग्रस्त

खबरिस्तान नेटवर्क: हॉलीवुड (Hollywood) के फेमस सिंगर्स में से एक जस्टिन बीबर (Justin Beiber), जो दुनियाभर में फेमस हैं। हाल ही में उन्होंने अपने सारे शोज कैंसिल कर दिए हैं। इस बात से उनके फैन्स काफी नाराज है। बता दें कि जस्टिन ने अपने शोज इसलिए कैंसिल कर दिए हैं क्योंकि जस्टिन को एक ऐसी बीमारी हो गयी है जिसके कारण आधा फेस पैरालिसिस का शिकार हो जाता है। तो चलिए जानते हैं इस बीमारी के लक्षण और इलाज के बारे जानते हैं।

दरअसल जस्टिन को रामसे हंट सिंड्रोम (Ramsay Hunt Syndrome) हो गया है। ये एक दुर्लभ तंत्रिका संबंधी विकार है, जिसमें कान के आसपास, चेहरे पर या मुंह पर दर्दनाक चकत्ते निकल आते हैं। यह दुर्लभ विकार तब होता है जब वेरिसेला-जोस्टर वायरस (varicella-zoster virus) सिर की नस को संक्रमित करता है। रामसे हंट सिंड्रोम होने पर न केवल चेहरे और कान के आसपास दर्दनाक चकत्तें होते हैं, बल्कि मुह पर लकवा यानि पैरालिसिस भी हो जाता है। जिसकी वजह से प्रभावित कान में बहरेपन की गंभीर समस्या का सामना भी करना पड़ सकता है। रामसे हंट सिंड्रोम वैरिकाला जोस्टर वायरस (वीजेडवी) के कारण होता है, यह वही वायरस है जो बच्चों में चिकनपॉक्स और बड़ों में दाद का कारण बनता है। बता दें कि इस विकार का नाम जेम्स रामसे हंट (James Ramsay Hunt) के नाम पर रखा गया था, जो एक चिकित्सक थे जिन्होंने पहली बार 1907 में इस दुर्लभ विकार का वर्णन किया था।

इसे भी पढ़ें: जस्टिन बीबर फैन्स के लिए बुरी खबर: भारत में होने वाला शो होगा कैंसिल, इस बीमारी से जूझ रहे पॉप स्टार 

https://webkhabristan.com/world/pop-star-justin-bieber-suffering-from-ramsay-hunt-syndrome-9749

रामसे हंट सिंड्रोम के लक्षण 

रामसे हंट सिंड्रोम जैसा गंभीर दुर्लभ विकार होने पर वैसे तो कई तरह के लक्षण और संकेत देखने को मिलते हैं। लेकिन इसके मुख्य रूप से दो लक्षण है जिससे इसकी पहचान आसानी से की जा सकती है

एक कान में और उसके आसपास द्रव से भरे फफोले के साथ एक दर्दनाक लाल चकत्ते का होना दूसरा चेहरे की कमजोरी या लकवा यानि पैरालिसिस होना जो एक तरफ के फेस को प्रभावित करता है

इसके अलावा अन्य लक्षण इस तरह से हैं

कान में दर्द होना


आपके कानों का बजना (टिनिटस)

एक आँख बंद करने में कठिनाई होना

बार बार चक्कर आना या फिर घूमना या फिर हिलना महसूस होना

Taste में बदलाव का महसूस होना

मुंह सूख जाना

आँखें में ड्राईनेस का होना शामिल है।

रामसे हंट सिंड्रोम होने के कारण

रामसे हंट सिंड्रोम ज्यादातर उन लोगों में होता है जिन्हें कभी चिकनपॉक्स हुआ हो या चिकनपॉक्स के टिके न लगे हो। एक बार जब आप चिकनपॉक्स से ठीक हो जाते हैं, तो वायरस आपके शरीर में रहता ही है और कभी-कभी कई वर्षों बाद फिर से सक्रिय होकर दाद, द्रव से भरे फफोले के साथ एक दर्दनाक दाने का कारण बनता है।

रामसे हंट सिंड्रोम एक दाद का प्रकोप है जो आपके एक कान के पास चेहरे की nerve को प्रभावित करता है। यह एकतरफा चेहरे के लकवे और सुनवाई हानि का कारण भी बन सकता है। हालांकि यह समस्या मुख्य रूप से बड़ों को प्रभावित करती है, लेकिन दुर्लभ मामलों में, यह बच्चों में भी देखी जाती है। इसके अलावा इसे बीमारी उनको भी हो जाती है जिनकी प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर होती है।

रामसे हंट सिंड्रोम का इलाज

रामसे हंट सिंड्रोम में जल्द से जल्द इलाज शुरू कर देने से दर्द कम हो सकता है और लंबे समय तक प्रभावित करने वाली Complications के खतरे को भी कम किया जा सकता है। इसके लिए anti virus मेडिसिन जो इससे लड़ने में मदद करती हैं और चिकनपॉक्स वायरस से निपटने में भी हेल्प करती हैं। बता दें कि रामसे हंट सिंड्रोम में एंटी वायरस दवाओं के प्रभाव को बढ़ाने के लिए कम समय तक प्रेडनिसोन लेना चाहिए। वहीँ अगर आपको बताये गये संकेतों और लक्षणों की पहचान समय पर होती है, तो जल्द डॉक्टर को दिखाएँ, क्योंकि इन संकेतों और लक्षणों के दिखाई देने के तीन दिनों के अंदर इलाज शुरू कर देने से लंबे समय तक होने वाली समस्याओं से बचा जा सकता है।

इस खबर में दी गई जानकारी आपको जागरूकता मात्र के लिए दी गयी है। अगर आपको बताये हुए लक्षण दिख रहे हैं तो डॉक्टर को तुरंत दिखाएँ और समय रहते अपना इलाज करवाएं।

Related Tags


Ramsay Hunt Syndrome treatment and symptoms justin bieber pop singer justin bieber

Related Links