हर समय ज्यादा थकान रहना, चक्कर आना ब्लड डिसऑर्डर हो सकता है



एनीमिया, ब्‍लीडिंग डिसऑर्डर, हेमोफीलिआ और ब्‍लड क्‍लॉट्स ब्लड डिसऑर्डर के ही सामान्य रूप माने जाते हैं

खबरिस्तान नेटवर्क: अगर आपके भी स्किन रंग सफेद या पीला होता है या फिर आपको समय समय पर चक्कर आते हैं, कमजोरी महसूस होती है और बॉडी में हर समय दर्द रहता है, तो ये ब्लड डिसऑर्डर के संकेत हो सकते हैं। ऐसे में ये ब्‍लड या बोन मैरो की समस्या के कारण बन सकता है। तो आज इसी के बारे में जानते हैं।

क्या होता है ब्लड डिसऑर्डर

एक्सपर्ट्स के मुताबिक बोन मैरो हड्डियों के भीतर एक फैटी एरिया होता है जो नए रेड ब्‍लड सेल्‍स, व्‍हाइट ब्‍ल्‍ड सेल्‍स और प्‍लेटलेट्स को बनात है। जब इनमें से किसी भी सेल्‍स में परेशानी होती है या प्‍लाज्‍मा में क्लॉटिंग होने लगती है तब बॉडी में ब्‍लड डिसऑर्डर की समस्‍या आने लगती है। वहीँ एनीमिया, ब्‍लीडिंग डिसऑर्डर, हेमोफीलिआ और ब्‍लड क्‍लॉट्स ब्लड डिसऑर्डर के ही सामान्य रूप माने जाते हैं। बता दें ह्यूमन बॉडी में खून की कमी होना ब्‍लड डिसऑर्डर दर्शाती है। आमतौर पर ब्‍लड डिसऑर्डर की समस्‍या किसी इंफेक्‍शन, टॉकसिक एक्‍सपोजर, दवा के साइड इफेक्‍ट और आयरन, विटामिन के, विटामिन बी12 जैसे पोषक तत्‍वों की कमी के कारण भी हो सकती है।

ब्‍लड डिसऑर्डर के क्या हैं लक्षण

एनीमिया: बता दें कि रेड ब्‍लड सेल्‍स घजब घाट जाते हैं तो एनीमिया की शिकायत होती है। इसमें चक्‍कर आना, सांस लेने में परेशानी या हार्ट रेट बढ़ा जाता है।


थ्रोम्‍बोकाइटोपेनिया: जब भी प्‍लेटलेट्स कम होते हैं, तो ये बीमारी होती है। इसमें मूंह और नाक से ब्‍लीडिंग होने लगती है।

हेमोफीलिया: पुअर क्‍लॉटिंग इसका मुख्य कारण है, जिसकी वजह से ब्लीडिंग बढ़ जाती है। जिस कारण मसल्‍स और ज्‍वाइंट्स पेन शुरू  हो जाती है।

ब्‍लड क्‍लॉट्स: जब भी बहुत ज्यादा सूजन कंधे व पैरों में होती है, तो उसका मतलब ब्लड क्‍लॉट्स से होता है।

ब्‍लड डिसऑर्डर के अन्‍य लक्षण भी हो सकते हैं

इस बीमारी के अन्य लक्षण भी हो सकते हैं, जैसे थकान या कमजोरी का महसूस होना, हार्ट बीट का ऊपर नीचे होना, सांस लेने में दिक्कत होना, हर समय सिर में दर्द रहना, समय समय पर चक्‍कर आना, स्किन का कलर येलो होना या फिर स्किन सफेद पड़ना साथ ही फेस या लेग्‍स में सूजन आना ब्‍लड डिसऑर्डर के अन्य कारण माने जाते हैं।

इससे बचने के लिए क्या खाएं

इस बीमरी से बचने के लिए डाइट में हेल्दी चीजें खाएं। इसे आप किशमिश और दूध ले सकते हैं। इसके अलावा पालक, फलों में केला, सेब और पत्‍तेदार सब्जियां या फिर एग्‍स, मीट, मछली, चावल और सोयाबीन का सेवन कर सकते हैं।

ये जानकारी आपको जागरूकता मात्र के लिए दी गयी है खबरिस्तान नेटवर्क इसकी कोई पुष्टि नहीं करता है। इन पर अमल करने से पहले या इसके बारे में अधिक जानकारी लेने के लिए एक्सपर्ट्स से राय जरूर ले।

Related Tags


blood disorder dizziness tiredness symptoms of blood disorder

Related Links