नीदरलैंड की साइक्लिस्ट ने पहले मनाया जश्न और फिर जब हुआ गलती का एहसास तो रोने लगी



उन्हें लगा कि उन्होंने गोल्ड मेडल जीत लिया है

वेब खबरिस्तान,टोक्यो। ओलिंपिक में नीदरलैंड्स की साइक्लिस्ट एनेमिएक वेन व्ल्युटन के साथ गफलत हो गई। दरअसल विमेंस रोड रेस में जब वे फिनिश लाइन पर पहुंचीं तो उन्हें लगा कि उन्होंने गोल्ड मेडल जीत लिया है। उन्होंने तो खुशी में हवा में हाथ भी लहरा दिए थे लेकिन कुछ देर बाद ही उन्हें पता लगा कि उन्होंने गोल्ड नहीं, सिल्वर जीता है। वे अपनी भावनाओं को काबू में नहीं रख सकीं और रो पड़ी ।

ऑस्ट्रिया की एना केइसनोफर ने जीता गोल्ड मेडल


वेन व्ल्युटन से 1.15 मिनट पहले ही ऑस्ट्रिया की एना केइसनोफर ने गोल्ड मेडल अपने नाम कर लिया था। वेन इस कदर निराश हो गईं कि रेस खत्म करने के बाद रोने लगीं। वेन व्ल्युटन ने बताया- प्रोफेशनल रेस की तरह ओलिंपिक में हमारे पास रेडियो असिस्टेंस नहीं होता है। इसलिए मुझे पता नहीं लगा कि केइसनोफर रेस पूरी कर चुकी हैं। जब सब पता लगा तो मुझे लगा कि मैं कितनी बड़ी बेवकूफ हूं।

टीम का सपोर्ट स्टाफ भी गलतफहमी में था

उनके टीम के सपोर्ट स्टाफ भी इस गलतफहमी में थे कि उन्होंने गोल्ड मेडल जीत लिया है। कई अन्य पार्टिसिपेंट भी यही समझ रही थीं कि गोल्ड नीदरलैंड की साइक्लिस्ट ने जीता है। ब्रिटेन की साइक्लिस्ट लिजी डिगनान ने कहा- वेन व्ल्युटन इस इवेंट की सबसे दमदार खिलाड़ी थीं। बाद में उन्हें भी पता चला कि गोल्ड मेडल वेन व्ल्युटन ने नहीं बल्कि केइसनोफर ने जीता है।

वेन ने कहा ये मेरा पहला ओलिंपिक मेडल

वेन ने कहा कि मेरा गोल था कि मैं अपनी बेस्ट परफॉर्मेंस दूं और मैं इसमें कामयाब रही हूं। अगर ऐसा ही चलता रहा तो मैं इस फॉर्म के साथ ही गोल्ड भी जीत सकती हूं। उन्होंने कहा- मैं काफी गर्व महसूस कर रही हूं। मैंने गोल्ड मेडल नहीं जीता, लेकिन ये सिल्वर मेडल है और ये मेरा पहला ओलिंपिक मेडल है।

Related Links