बैडमिंटन में भारत ने रचा इतिहास:73 साल में पहली बार थॉमस कप का खिताबी मुकाबला खेलेगी भारतीय टीम, इस दिन होगा फाइनल

थॉमस कप के मुकाबले बेस्ट ऑफ 5 फॉर्मेट में होते हैं

थॉमस कप के मुकाबले बेस्ट ऑफ 5 फॉर्मेट में होते हैं



भारतीय पुरुष बैडिमिंटन टीम ने इतिहास रच दिया है

वेब खबरिस्तान। भारतीय पुरुष बैडिमिंटन टीम ने इतिहास रच दिया है। भारतीय टीम ने प्रतिष्ठित थॉमस कप टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बना ली है। सेमीफाइनल में भारत ने डेनमार्क को कड़े मुकाबले में 3-2 से हरा दिया। थॉमस कप का आयोजन 1949 से हो रहा है। यानी 73 साल में पहली बार भारतीय टीम खिताबी मुकाबला खेलेगी। 


फाइनल में रविवार को इंडोनेशिया से भारत का मुकाबला होगा। सेमीफाइनल में पहुंचते ही भारत का मेडल पक्का हो गया था। भारतीय टीम पहली बार थॉमस या उबर कप में मेडल जीत रही है। महिला वर्ग में यह टूर्नामेंट उबर कप के नाम से खेला जाता है। 

एचएस प्रणय ने दिलाई जीत

थॉमस कप के मुकाबले बेस्ट ऑफ 5 फॉर्मेट में होते हैं। यानी दो देशों की टीमों को आपस में पांच मैच खेलने होते हैं। डेनमार्क के खिलाफ सेमीफाइनल में पहले चार मैचों के बाद दोनों टीमें 2-2 की बराबरी पर थी। आखिरी मैच में भारत के एचएस प्रणय के सामने डेनमार्क की ओर से रासमुस गेमके थे। प्रणय ने यह मैच 1 घंटा, 13 मिनट में 13-21, 21-9, 21-12 से अपने नाम किया।

 

Related Links