उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने दिया करोड़ों का ऑफर आशय भावे को, पढ़ें पूरी ख़बर और जानें कौन है आशय भावे

उद्योगपति आनंद महिंद्रा से मिला करोड़ों का ऑफर

उद्योगपति आनंद महिंद्रा से मिला करोड़ों का ऑफर



23 साल के आशय भावे, जिनका स्टार्टअप कूड़े से जूते बनाता है। एक जोड़ी जूते की कीमत लगभग 7000 रूपए है

वेब ख़बरिस्तान। यूं तो आपने पूरी दुनिया में बहुत से टैलेंटेड लोगों को देखा होगा। हमारे भारत में भी टैलेंट की कोई कमी नहीं है। लेकिन आज हम आपको जिस टैलेंट के बारे में बताने वाले हैं वह कूड़े से जूता बनाते हैं। अरे घबराये नहीं, जरा इनके बारे में पूरी जानकारी तो ले लें। जी हाँ ये है 23 साल के आशय भावे, जिनका स्टार्टअप कूड़े से जूते बनाता है। इनके इसी स्टार्टअप से इम्प्रेस होकर उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने इस स्टार्टअप में फंडिंग करने का ऑफर दिया है आनंद महिंद्रा ने इस स्टार्टअप की अपने ट्विटर हैंडल के जरिए खूब तारीफ की है

उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने ट्वीट कर कहा


उन्होंने ट्वीट करके कहा कि उन्हें शर्मिंदगी है कि उन्हें इस प्रेरणादायक स्टार्टअप के बारे में पहले नहीं पता था उन्होंने कहा कि ये उस तरह के स्टार्टअप्स हैं, जिनके लिए हमें प्रोत्साहन देना चाहिए, केवल बड़े यूनिकॉर्न को नहीं आगे उन्होंने कहा कि वे एक जोड़ी जूते भी खरीदने वाले हैं क्या कोई उन्हें इन्हें लेने का सबसे बेहतर तरीका बता सकते हैं इसके साथ उन्होंने कहा कि और जब वे फंड जुटाते हैं, तो उन्हें भी शामिल कर लें

इस स्टार्टअप की शुरुआत जुलाई 2021 में हुई थी

आपको बता दें आशय भावे ने जुलाई 2021 में इस स्टार्टअप को शुरू किया था इस स्टार्टअप का नाम थैले रखा गया है कंपनी ने 50 हजार से ज्यादा प्लास्टिक बैग और 35 हजार प्लास्टिक बोटल से मैटेरियल का दोबारा इस्तेमाल कर जुटे बनाये हैं

कैसे आया यह आईडिया

भावे को इस बिजनेस का आइडिया उस समय आया था,  जब वे साल 2017 में बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (BBA) की पढ़ाई में मशरूफ थे उनको कॉलेज की अतार्फ़ से एक प्रोजेक्ट दिया गया था जिस पर उन्होंने काम किया था अब,  युवा उद्यमी का यह आइडिया पुरे देश में एक सफल बिजनेस मॉडल बन कर उभर रहा हैवर्तमान में,  कंपनी जूतों के बाजार में Nike और Puma जैसे ब्रांड्स के मुकाबले छोटी दिखती हो,  लेकिन कंपनी जल्द ही यूरोप और अमेरिका के बाजारों में अपने प्रोडक्ट्स को बेचने की बड़ी योजना की तैयारी कर रही है

यूरेका स्टार्टअप पिच कॉम्पटीशन में पेश किया था आईडिया

आशय भावे ने प्लास्टिक और रबड़ से बने स्नीकर्स के इस आइडिया को साल 2019 में एमिटी यूनिवर्सिटी में यूरेका स्टार्टअप पिच कॉम्पटीशन में पेश किया था है है उस समय उनके इस आईडिया को काफी सराहा भी गया था और वहां मिली जीत से उन्हें हौसलाभी  मिला है आपको बता दें उनके स्नीकर का डिजाइन बास्केटबॉल स्नीकर के फैशन से प्रेरित है,  जो 2000 के दशक की शुरुआत में आया था है

प्लास्टिक बोटल्स को फैब्रिक के तौर पर रिसाइकिल किया जाता है

आशय का स्टार्टअप वेस्ट मैनेजमेंट कंपनी से कच्चा माल खरीद कर  प्लास्टिक बैग को गर्मी और प्रेशर की मदद से एक फैब्रिक के रूप में  में बदलते है,  जिन्हें ThaelyTex कहा जाता है फैब्रिक को शू के पैटर्न में काटा दिया जाता है आपको बता दें प्लास्टिक बोटलों को एक फैब्रिक के तौर पर रिसाइकिल किया जाता है,  जिसे rPET कहते हैं इसे लाइनिंग, शू लेस,  पैकेजिंग और दूसरे भागों के लिए यूज़ किया जाता है

99 डॉलर यानि 7,000 रुपये है कीमत

एक जोड़ी जूतों को बनाने के लिए लगभग 12 प्लास्टिक बोटल और 10 प्लास्टिक बैग का इस्तेमाल होता हैये चार वेरिएंट्स में आते हैं, जिनकी कीमत 99 डॉलर यानि 7,000 रुपये है

Related Links