हिंदू शख्स में धड़केगा मुस्लिम परिवार के बेटे का दिल

 दिल 25 से 19 फीसदी तक काम कर रहा था

दिल 25 से 19 फीसदी तक काम कर रहा था



देश में धर्म के नाम हो रही राजनीति के बीच गुजरात में इंसानियत की जिंदा मिसाल

ख़बरिस्तान नेटवर्क। देश के अलग-अलग हिस्सों में धर्म के नाम पर चल रही राजनीति के बीच गुजरात में ब्रेन डेड मुस्लिम शख्स का दिल जरूरतमंद हिंदू व्यक्ति के सीने में ट्रांसप्लांट किया गया है। इधर ऑपरेशन चल रहा था उधर, मुस्लिम परिवार नमाज पढ़ रहा था हिंदू परिवार प्रार्थना कर रहा था।

मेडिकल जांच के बाद अस्पताल लाया गया


कच्छ निवासी 25 वर्षीय वकार (बदला हुआ नाम) 23 अप्रैल को एक्टिवा चलाते समय सामने से आ रही दूसरी एक्टिवा से टकरा गया था। पहले नजदीकी अस्पताल ले गए। हालत गंभीर होने के कारण उसे अहमदाबाद के सिविल अस्पताल रेफर किय गया।अहमदाबाद सिविल अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक राकेश जोशी के अनुसार वकार को मेडिकल जांच के बाद अस्पताल लाया गया। उसका ब्रेन डेड हो चुका है। उसका दिमाग काम नहीं कर रहा था। मगर शरीर के अंग काम कर रहे थे। हमें लगा कि उसके अंग दूसरे जरूरतमंद रोगियों के लिए बहुत काम के साबित हो सकते हैं।

डॉक्टरों की टीम ने अब्दुल के परिवार को अंगदान का महत्व समझाया और वे तैयार हो गए। वकार के शरीर से दिल निकालने के बाद सिम्स अस्पताल में 52 वर्षीय व्यक्ति को ट्रांसप्लांट किया गया। जिनका दिल 25 से 19 फीसदी तक काम कर रहा था।

Related Links