तलाकशुदा पत्नी 17 साल बाद मिली तो दूसरी पत्नी को छोड़ा

ex-wife-met-second-wife-left-by-husband

ex-wife-met-second-wife-left-by-husband



कहा- लाकडाउन में वेतन नहीं मिला, दूसरी को गुजारा भत्ता नहीं दे सकता

मध्य प्रदेश के ग्वालियर में एक रोचक मामला अदालत में पहुंचा। दूसरी पत्नी ने आरोप लगाया है कि उसके पति ने अपनी तलाकशुदा पत्नी को फिर अपना लिया है। उसे घर से बाहर निकाल दिया है। इन दोनों का तालाक 17 साल पहले हो गया था। अब अदालत में वह अफसर दूसरी पत्नी का भरण-पोणष करने को राशि देने के लिए भी तैयार नहीं है।

अफसर पति का कहना है कि उसे लॉकडाउन में वेतन नहीं मिला, इसलिए वह भरण-पोषण नहीं दे सकता। इस मामले में सुनवाई अब अगले हफ्ते होगी। वहीं अदालत ने अफसर की दलील को न मानते हुए उसे कोर्ट में सैलरी स्लिप पेश करने का आदेश दिया है।

तबादला हुआ तो पहली पत्नी ने लिया तालाक


ग्वालियर के इस अफसर की पत्नी भी सरकारी विभाग में अच्छे पदपर तैनात है। महिला का तबादला किसी दूसरे शहर में हो गया।दोनों साथ नहीं रह पा रहे थे, इसलिए 2003 में दोनों में आपसी सहमति से तलाक हो गया था। दोनों अलग हुए तो अफसर ने दूसरी शादी करली। वह महिला घरेलू थी।

अफसर अपनी दूसरी पत्नी के साथ रह रहा था। उसके एक बेटी और एक बेटा है। दोनों स्कूल में पढ़ते हैं। इसी दौरान 17 साल बाद जनवरी 2020 में पहली पत्नी लौट आई। उसने दोनों को साथ ही रख लिया। अब आए दिन झगड़े होने लगे।

जिसके बाद अफसर ने दूसरी पत्नी को घर छोड़नेको कह दिया। रोज-रोज के गृह क्लेश से बचने के लिए वह इस शर्तपर अलग रहने को तैयार हो गई कि पति उसे हर माह भरण-पोषण की राशि दे। लेकिन पति ने इससे इन्कार कर दिया।

कोर्ट बंद रहे तो बिगड़ी आर्थिक स्थिति

भरण-पोषण के लिए अदालत गई महिला की आर्थिक स्थिति तब खराब हो गई जब कोर्ट में सुनवाई बंद रही। नौ महीने तक सुनवाईनहीं हुई। रिश्तेदारों और स्वजन की मदद से उसने किसी तरह जीवनयापन किया। दिसंबर माह में जब कोर्ट दोबारा खुले तो सुनवाईशुरू हुई। अब अफसर पति अगले महीने अपनी सैलरी स्लिप व बैंकखाते की जानकारी के साथ कोर्ट में पक्ष रखेगा।

जिला कोर्ट के अधिवक्ता और पूर्व लोक अभियोजक जगदीश शर्मा ने कहा कि सीआरपीसी की धारा 125 में पत्नी को भरण-पोषणकी राशि पाने का अधिकार है। यह पत्नी कई स्थितियों में ले सकतीहै। पति घर से निकाल दे, साथ रखने से मना कर दे, तो भी वहअपने जीवन यापन के लिए राशि मांग सकती है।

Related Links