British Queen Elizabeth: गजब का हुनर दिखाया आर्टिस्ट ने, बना डाली महारानी की 1 mm की मूर्ति



आर्टिस्ट ने तीन महीने पूरी तरह तराशा मूर्ति को

खबरिस्तान नेटवर्क: ब्रिटेन में महारानी क्वीन एलिज़ाबेथ-2 पिछले 70 सालों से राजगद्दी संभाल रही हैं। इस मौके पर पूरे ब्रिटेन में चार दिन का प्लेटिनम जुबली समारोह का आयोजन किया गया था। यहां लोगों ने अपने अपने ढंग से महारानी के प्रति अपना प्यार और सम्मान जाहिर किया। इस बीच एक आर्टिस्ट ने महारानी की इतनी छोटी मूर्ति बना डाली, जिसे देखने के लिए माइक्रोस्कोप की जरूरत पड़ रही है।

1 मिली मीटर से भी छोटी मूर्ति

बता दें माइक्रो आर्टिस्ट डेविड लिंडन ने महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की 0.6 मिमी चौड़ी और 1 मिमी लंबी मूर्ति बना कर सबको हैरान कर दिया है। वहीँ  ताज पहने महारानी की यह नन्ही सी मूर्ति प्लेटिनम की छड़ के सिरे पर बनाई गई है। ब्रिटेन की महारानी की यह मूर्ति इतनी छोटी है कि इसे सुई के सुराख से बहुत ही आसानी से निकाला जा सकता है।

तीन महीने में पूरी हुई मूर्ति


डेविड के मुताबिक ताज पहने महारानी की ये मूर्ति को बनाने में तीन महीने से ज्यादा का वक्त लगा। मूर्ति को तराशते वक्त बेहद सावधानी बरती गई, क्योंकि ये बहुत ही बारीक़ काम था। वहीँ इस बात पर खास ध्यान दिया गया कि कहीं छींक या खांसी न आ जाए। अगर काम करते वक्त गलती से भी छींक या खांसी आ जाती तो पूरी मेहनत बर्बाद हो जाती। इतना ही नहीं इसे बनाने के लिए रात के समय काम किया जाता था, ऐसा इसलिए क्यों घर के बाहर से गुजरने वाले वाहनों की वजह से होने वाले कंपन और शोर से मूर्ति का नुक्सान हो सकता था।

माइक्रो आर्ट को बनाया जीवन

बता दें कि माइक्रो आर्टिस्ट डेविड लिंडन पेशे से इंजीनियर हैं। उन्होंने ब्रिटिश रक्षा मंत्रालय के लिए एयरक्राफ्ट सिस्टम और यूरोफाइटर पर भी काम किया है। लेकिन 5 साल पहले इंजीनियरिंग छोड़ उन्होंने दुनिया में सबसे बेहतरीन मानी जाने वाली माइक्रो आर्ट को जीवन बना लिया। इसके बाद उन्होंने रिकॉर्ड सुई के सुराख में फिट आ जाएं, ऐसी कई मूर्तियां बनाईं, लेकिन डेविड अपनी इस मूर्ति को सबसे छोटी और सबसे बेहतर मानते हैं।

सुई की आंख में बना दी युवा महारानी

एक अन्य माइक्रो आर्टिस्ट डॉ. विलार्ड विगन ने महारानी के युवावस्था के दौरान की एक मूर्ति बनाई है। इस मूर्ति में महारानी व्हाइट गाउन पहने ताज पहनने के लिए तैयार नजर आ रहीं हैं। यह मूर्ति सुई के सुराख में बनाई गई है, जिसे माइक्रोस्कोप से ही देखा जा सकता है। डॉ. विलार्ड कहते हैं कि इसे 200 पार्ट में पूरा किया गया है। महारानी के प्रति मेरा यह अब तक का सबसे बड़ा सम्मान है। साल 2007 में 65 वर्षीय डॉ. विलार्ड को कला के क्षेत्र में उत्कृष्ट सेवा देने के लिए एमबीई सम्मान से सम्मानित किया जा चुका है। इससे पहले उन्होंने महारानी की डायमंड जुबली के लिए 24 कैरेट सोने का छोटा सा ताज बनाया था।

Related Tags


British Queen Elizabeth: artist made a 1 mm statue of her British Queen Elizabeth

Related Links