खास ख़बर

शादी से एक दिन पहले कोरोना पॉजिटिव हुई दुल्हन सभी घरवाले पीपीई किट पहनकर शादी में हुए शामिल बाराती घर से साथ लेकर आए खाना

शादी से एक दिन पहले कोरोना पॉजिटिव हुई दुल्हन, सभी घरवाले पीपीई किट पहनकर शादी में हुए शामिल, बाराती घर से साथ लेकर आए खाना

उत्तराखंड में शादी से एक दिन पहले दुल्हन की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई। ऐसे में घर वालों ने सेहत कर्मियों की मौजूदगी में दुल्हन को पीपीई किट पहनाकर शादी करवाई। दुल्हन और घरवाले हुए क्वारंटाइन


...जब स्लो वाक के लिए निकला विशालकाय कछुआ

...जब स्लो वाक के लिए निकला विशालकाय कछुआ

टोक्यो, एजेंसी : आपने कछुए और खरगोश की दौड़ की कहानी तो कई बार सुनी होगी, लेकिन यह थोड़ी अलग है। यह कछुए और उसके मालिक के स्लो वाक की कहानी है। जापान की राजधानी टोक्यो निवासी 68 वर्षीय बुजुर्ग मितानी हिसाओ ने एक अफ्रीकी नस्ल का कछुआ पाल रखा है। उन्होंने 25 साल के इस कछुए का नाम बोन चैन रखा है। अक्सर ही वह टोक्यो की सड़कों के किनारे कछुए के साथ वॉक पर निकल जाते हैं। आप अंदाजा लगा सकते हैं कि 70 किलोग्राम के इस विशालकाय कछुए के साथ कोई किस गति में वॉक ले सकता है। मितानी बताते हैं कि वह बोन चैन के साथ 13 वर्ष पूर्व पहली बार वॉक पर निकले थे। तब वह छोटा था और वजन भी कम था। लेकिन, पिछले 10 वर्षों में उसका आकार तेजी से बढ़ा है। इस स्लो वॉक का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो चुका है। लोग इसे 70 लाख से भी ज्यादा बार देख चुके हैं। <iframe width="560" height="315" src="https://www.youtube.com/embed/PDZdM5V-3T4" title="YouTube video player" frameborder="0" allow="accelerometer; autoplay; clipboard-write; encrypted-media; gyroscope; picture-in-picture" allowfullscreen></iframe>

https://webkhabristan.com/special-news/a-big-turtle-on-slow-walk-1747
यहां स्ट्रीट डॉग्स के लिए चलती है विशेष ट्रेन

यहां स्ट्रीट डॉग्स के लिए चलती है विशेष ट्रेन

वेब खबरिस्तान, वाशिंगटन। मनुष्यों के लिए तो दुनियाभर में जरूरत के अनुसार ट्रेनें चलाई जाती हैं, लेकिन अमेरिका के टेक्सास में एक बुजुर्ग स्ट्रीट डॉग्स के लिए विशेष ट्रेन का संचालन करते हैं। यह ट्रेन केवल इसलिए विशेष नहीं है कि उसमें डॉग्स सवारी करते हैं, बल्कि इसके अलावा भी ट्रेन की कई विशेषताएं हैं। जुगाड़ से बनाई गई यह ट्रेन पटरियों पर नहीं चलती, बल्कि इसकी छोटी-छोटी बोगियों में टायर लगे हुए हैं। ट्रेन के इंजन का काम ट्रैक्टर करता है, जिसे 80 वर्षीय बुजुर्ग यूजीन बोसिक खुद चलाते हैं। अमेरिकी बास्केटबॉल खिलाड़ी रेक्स चैपमैन द्वारा साझा किया गया यह वीडियो इंटरनेट पर वायरल हो गया है। वीडियो में दिखता है कि यूजीन अपनी जुगाड़ की ट्रेन में स्ट्रीट डॉग्स को चढ़ाने के लिए विशेष प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करते हैं। ट्रेन में चढ़ने से लेकर सवारी के दौरान भी डॉग्स अनुशासन बरतते हैं। एक डिब्बे में एक डॉग सवार होता है और सभी आनंद उठाते नजर आते हैं।

https://webkhabristan.com/special-news/special-train-for-street-dogs-1712
लगातार कई घंटे वीडियो गेम खेलकर बनाया रिकॉर्ड

लगातार कई घंटे वीडियो गेम खेलकर बनाया रिकॉर्ड

वेब खबरिस्तान, क्यूबेक। रिकॉर्ड बनाने के लिए लोग क्या-क्या नहीं करते...दिन रात जागते हैं और कई घंटे लगातार मेहनत करते हैं। क्यूबेक में एक व्यक्ति ने भी लगातार कई घंटे वीडियो गेम खेलकर गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज कराया है। बॉबी वल्र्ड ऑफ वारक्राफ्ट खेल रहे थे जो 34 घंटे में खत्म होने जा रहा था लेकिन उन्हें पता चला कि कोई और भी रिकॉर्ड के लिए कोशिश कर रहा था। इसके बाद उन्होंने गेम को कुछ देर खेलने का फैसला किया और 44 घंटे, 44 मिनट एवं 44 सेकंड तक सबसे लंबे वीडियो गेम मैराथन के लिए वल्र्ड रिकॉर्ड बनाया। 32 घंटे और 34 सेकंड का पिछला रिकॉर्ड 2017 में फ्लोरिडा के इयान हैम्स ने बनाया था। बॉबी के मुताबिक, उन्होंने लगातार जागते रहने के लिए लोगों से बात की और गाने सुने।

https://webkhabristan.com/special-news/guinness-world--record-made-by-playing-a-video-game-1696
आश्चर्य : 25 वर्षीय महिला ने एक साथ दिया नौ बच्चों को जन्म

आश्चर्य : 25 वर्षीय महिला ने एक साथ दिया नौ बच्चों को जन्म

बामको, रायटर : पश्चिम अफ्रीका के देश माली में एक 25 वर्षीय महिला हलीमा सिस्से ने एक साथ नौ बच्चों को जन्म दिया है। सरकार ने महिला के इलाज की जिम्मेदारी लेकर उसका सिजेरियन ऑपरेशन मोरक्को में कराया। इन नौ बच्चों में पांच लड़कियां और चार लड़के हैं। सभी बच्चे हेल्दी हैं। अल्ट्रासाउंड में 7 बच्चे थे माली की स्वास्थ्य मंत्री फैंटा सिबी ने जानकारी देते हुए कहा कि हलीमा का मार्च में जब अल्ट्रासाउंड कराया गया था, तब रिपोर्ट में सात बच्चे होना बताया गया था। हालात को देखते हुए हलीमा का ऑपरेशन मोरक्को में कराने का फैसला लिया गया। मोरक्को में भी जब अल्ट्रासाउंड करवाया गया तो सात बच्चे ही दिखाई दे रहे थे। सिजेरियन ऑपरेशन किया गया तो नौ बच्चे हुए। माली की स्वास्थ्य मंत्री इसे दुर्लभ घटना मानती हैं।

https://webkhabristan.com/special-news/25-years-old--lady-give-birth-to-nine-babies-1679
चलती ट्रेन में चढ़ने के चक्कर में प्लेटफार्म गैप में गिरी गर्भवती महिला

चलती ट्रेन में चढ़ने के चक्कर में प्लेटफार्म गैप में गिरी गर्भवती महिला

वेब खबरिस्तान, मुंबई। मुंबई के दादर रेलवे स्टेशन पर एक गर्भवती महिला बाल बाल बच गई। दरअसल हुआ यूँ कि एक गर्भवती महिला अपने छोटे बच्चे के साथ चलती ट्रेन पर चढ़ने की कोशिश कर रही थी। इसी चक्कर में वह असंतुलित होकर गिर पड़ी। मौके पर तैनात आरपीएफ कांस्टेबल अशोक यादव तेजी से उनके पास पहुंचे और उस महिला की जान बचाई। विभाग की ओर से अशोक यादव को इस बहादुरी के लिए सम्मानित किया जाएगा। सीसीटीवी में कैद हुई घटना सीसीटीवी कैमरे में ये घटना कैद हुई है। 3 मई को सुबह 11:15 बजे दादर रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 5 पर सीएसएमटी- दानापुर स्पेशल ट्रेन जैसे ही चलने लगी एक गर्भवती महिला दौड़ती हुई अपने बच्चे के साथ ट्रेन पर चढ़ने की कोशिश कर रही थी । इसी कोशिश में उसका पैर फिसल गया और वह असंतुलित होकर प्लेटफार्म गैप में गिरने ही वाली थी कि प्लेटफॉर्म ड्यूटी पर तैनात आरपीएफ स्टाफ अशोक यादव ने दौड़कर उन्हें उठा लिया और दोनों की जान बच गई।

https://webkhabristan.com/special-news/pregnant-woman-falls-in-between-platform--1668
पंचायत चुनाव में वादा किया कब्रिस्तान बनाऊंगी, लोगों ने बना दिया प्रधान

पंचायत चुनाव में वादा किया कब्रिस्तान बनाऊंगी, लोगों ने बना दिया प्रधान

वेब खबरिस्तान। हमने कुछ दिन पहले बंगाल चुनाव देखा। रैलियां देखीं। नेताओं के दावे और वादे सुने। नतीजों में ममता बैनर्जी के वादों पर लोगों ने यकीन किया और उन्हें जिता दिया। इसी तरह उत्तर प्रदेश के पंचायत चुनाव में महिला प्रत्याशी ने भी गांव के लोगों से वादा किया था। प्रधान बनने के लिए बाराबंकी के हरख ब्लाक की ग्राम पंचायत मोहना की उर्मिला देवी यादव ने श्मशान की जमीन को अतिक्रमण मुक्त कराने व कब्रिस्तान के लिए जमीन दिलाने का वादा किया था। कोरोना काल में यह समस्या और भी ज्वलंत है। लोगों के लिए उम्मीद बना ऐसे में उर्मिला का वादा लोगों के लिए उम्मीद बना। उर्मिला पहली बार चुनाव लड़ीं और जीत हासिल की। उनका कहना है कि वह पहली बैठक में ही कब्रिस्तान के लिए जमीन का प्रस्ताव करेंगी। श्मशान की जमीन को दबंगों के कब्जे से मुक्त कराएंगी। पंचायत में श्मशान की जमीन गांव के पास नहर किनारे है। जहां कुछ लोग कब्जा कर रखा है और फसल बो देते हैं। ऐसे में लोग अपने-अपने खेत व बागों में शवों का अंतिम संस्कार करने के लिए मजबूर हैं। कब्रिस्तान न होने से खासकर बाजारपुरवा गांव के कई परिवार अपने परिजनों के शव घरों में दफन करने को मजबूर हुए हैं।

https://webkhabristan.com/special-news/in-panchayat-elections-woman-promise-to-make-cremation-ground-people-make-head--1661
अस्थमा-बीपी से पीड़ित 82 साल के चंपालाल व 75 की जानकी ने हराया कोरोना

अस्थमा-बीपी से पीड़ित 82 साल के चंपालाल व 75 की जानकी ने हराया कोरोना

वेब खबरिस्तान। गुना की गुर्जर कॉलोनी में रहने वाले 82 साल के चंपालाल सुमन और उनकी 75 वर्षीय पत्नी जानकी देवी ने कोरोना को हरा दिया है। जीवन जीने की ललक, नियमित रूटीन और एक दुसरे का साथ ही उनकी हिम्मत बना। चंपालाल अस्थमा और जानकी देवी बीपी से पीड़ित हैं। उनकी इच्छा है कि फुटबॉलर पोते को टीवी पर देखे। 18 अप्रैल को रिपोर्ट पॉजिटिव आई दोनों को 15 अप्रैल से पहले हल्का बुखार आया था। 18 अप्रैल को टेस्ट के लिए नंबर आया। रिपोर्ट पॉजिटिव आई। घर में सूचना बोर्ड लगाकर सील कर दिया गया। प्रशासन ने घर तो सील कर दिया। दवाई भी नहीं दी गई। दो दिन बाद सीएम हेल्पलाइन पर शिकायत की। उसके बाद किट उपलब्ध कराई गई। चंपालाल ने कहा कि हमने तय किया कि जिंदा रहना है और बीमारी से जीतना है। एक ही इच्छा है, फुटबॉलर पोते को टीवी पर खेलते हुए देखना है। पोता कोलकाता चार साल से कई मैच खेल चुका है। पहले हम घबरा गए थे चंपालाल कहते हैं - चूंकि मुझे अस्थमा और पत्नी को ब्लडप्रेशर की बीमारी है। इसलिए भी हम घबरा रहे थे। अस्पताल में जगह नहीं मिली। वहां के हालत देखकर हॉस्पिटल जाने से भी डर लगने लगा। इसलिए घर पर ही डॉक्टरों के मार्गदर्शन में कोरोना को हराने का फैसला किया। रूटीन में किया सुधार वे बताते हैं - डेली रूटीन सुधारा। सुबह जल्दी उठना। दिन में चार बार भाप लेना, सुबह-शाम छाती के बल उल्टा लेटना, दूध हल्दी और गुड़ का दूध, काढ़ा, गरम पानी साथ ही गरारे करना शुरू कर दिया। खाने में प्रोटीनयुक्त चीजें ज्यादा खाईं। इन सबके साथ नियमित दवाई। 10 दिन में ही कोरोना को हराया।

https://webkhabristan.com/special-news/82-years-old-chnpalal-and-75-years-old-janki-devi-defeated-corona-1628
साइंटिस्ट बना दुनिया का पहला ‘रोबोमैन’

साइंटिस्ट बना दुनिया का पहला ‘रोबोमैन’

वेब खबरिस्तान। यूं तो आपने सुपरमैन, आयरनमैन और रोबोट की बहुत सी फ़िल्में देखी होंगी। इसके अलावा आपने बहुत सी कोमिक्स में हाफ रोबोट और हाफ ह्यूमन की कहानियां भी पढ़ी होंगी। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे इंसान के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसने अपने आप को आज की टेक्नोलॉजी के सहारे हाफ ह्यूमन और हाफ रोबोट बना लिया है। दुनिया का पहला रोबोमैन... मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक यह साइंटिस्ट दुनिया का पहला रोबोमैन कहा जा रहा है। 62 साल के इंग्लैंड के इस साइंटिस्ट का नाम डॉक्टर पीटर स्कॉट मॉर्गन है। खुद को जिंदा रखने के लिए उन्होंने दुनिया के सामने एक अनोखी मिसाल पेश कर दी है। बॉडी के कई पार्ट्स ने काम करना कर दिया था बंद... अब आप सोचे रहें होंगे कि ऐसा कैसे हो सकता है, लेकिन आपको बता दें की डॉक्टर मॉर्गन को साल 2017 में मोटर न्यूरॉन नाम की एक घातक बीमारी हुई थी, जिसके कारण उनकी मास्पेशियाँ डिस्ट्रॉय होनी शुरू हो गयी थी। इसी वजह से उनकी बॉडी के कई पार्ट्स ने काम करना बंद कर दिया था। ऐसे में उन्होंने विज्ञान का सहारा लेकर अपने आप को हाफ ह्यूमन और हाफ रोबोट में तब्दील कर लिया। साल 2019 में शुरू किया रोबोमैन बनने का काम... यूँ तो डॉक्टर पीटर अब वो सारा काम मशीनों की मदद से आसानी से कर लेते हैं, जो एक आम स्वस्थ इंसान करता है। इसकी शुरुआत उन्होंने साल 2019 में की थी। डॉक्टर पीटर कहते हैं, 'मैं हमेशा से ऐसा मानता रहा हूं कि जीवन में ज्ञान और तकनीक के सहारे बहुत सी खराब चीजों को बदला जा सकता है।' फिक्शन कॉमिक से मिली रोबोमैन बनने की प्रेरणा... वेंटीलेटर के सहारे सांस लेने वाले डॉक्टर पीटर को रोबोमैन बनने की प्रेरणा साइंस फिक्शन कॉमिक के कैरेक्टर साइबोर्ग से मिली है। इस फिक्शन कॉमिक में साइबोर्ग हाफ ह्यूमन और हाफ रोबोट के क्रेक्टेर में होता है। खुश हैं निजी जीवन में भी... इसके अलावा डॉक्टर पीटर अपने निजी जीवन मे अपनी 65 साल की पार्टनर फ्रांसिस के साथ रहते हुए बेहद खुश हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, डॉक्टर पीटर कहते हैं की आधा मशीन होने के बावजूद मैं खुश हूँ। मेरे पास सपने है और मेरे पास उद्देश्य हैं।

https://webkhabristan.com/special-news/scientist-makes-himself-half-human-and-half-robot--1626