कल पंजाब में दोहरा बंद, किसानों के बाद वाल्मीकि समुदाय ने दी बंद की कॉल

सांकेतिक तस्वीर।

सांकेतिक तस्वीर।



रक्षा बंधन के कारण 11 को नहीं किया बंद, किसानों ने भी खुली रखी हाईवे की एक लेन

खबरिस्तान नेटवर्क। रक्षा बंधन के बाद पंजाब के लोगों को बंद का सामना करना पड़ेगा। 12 अगस्त को किसान लुधियाना-जालंधर के साथ-साथ जालंधर लुधियाना वाला हाईवे भी बंद करेंगे और दूसरी तरफ वाल्मीकि समुदाय ने भी 12 अगस्त को बंद काल दे दी है। अमृतसर के श्री रामतीर्थ से वाल्मीकि समुदाय ने हुक्मनामा जारी शुक्रवार को पंजाब बंद का ऐलान किया है।

हालांकि वाल्मीकि समुदाय का विरोध टालने के लिए कैबिनेट मंत्री कुलदीप सिंह धालीवाल ने समुदाय के पदाधिकारियों के साथ बैठक रखी थी। बैठक में मुख्यमंत्री भगवंत मान के न पहुंचने से समुदाय का गुस्सा और ज्यादा भड़क गया है। भगवान वाल्मीकि जी के पावन तीर्थ श्री रामतीर्थ से समुदाय ने हुक्मनामा जारी कर कहा कि 12 अगस्त को पंजाब सुबह 9 बजे से लेकर शाम को 5 बजे तक बंद रहेगा।


समुदाय के लीडर्स ने कहा कि रक्षाबंधन को लेकर 11 अगस्त को बंद नहीं किया गया। 12 अगस्त को बंद की काल दी गई है। वाल्मीकि समुदाय ने ये बंद की काल पूर्व एडवोकेट जनरल अनमोल रतन सिद्धू की एक टिप्पणी के बाद दी थी।

किसान भी शांत थे

किसान संगठनों ने भी रक्षाबंधन तक आंदोलन थोड़ा शांत रखा था। गन्ने का बकाया न मिलने पर रोष जता रहे किसानों ने कहा कि रक्षा बंधन के बाद आंदोलन को तेज किया जाएगा। किसानों ने कहा कि अभी तक लुधियाना जालंधर हाईवे ही रोका था।

रक्षा बंधन को देखते हुए मिल के सामने सर्विस लेन भी खोल दी थी। रक्षा बंधन के बाद पूरा हाईवे बंद किया जाएगा। किसानों का कहना है कि रक्षा बंधन के बाद किसान संगठनों की बैठक भी बुलाई गई है। बैठक में पूरे पंजाब की सड़कों को बंद करने पर भी फैसला हो सकता है। 

Related Tags


Related Links


webkhabristan