थप्पड़ का बदला लेने के लिए नाबालिग वर्कर ने किया मासूम का अपहरण, एक गलती से पकड़ा गया

पुलिस ने मासूम अबु को उसके घरवालों को सौंप दिया है। अबु घर जाकर अपने पिता की गोद में खेलना नजर आया।

पुलिस ने मासूम अबु को उसके घरवालों को सौंप दिया है। अबु घर जाकर अपने पिता की गोद में खेलना नजर आया।



मासूम अबु को ट्रेन के जरिए वाराणसी लेकर जा रह था आरोपी

वेब ख़बरिस्तान, जालंधर। थप्पड़ का बदला लेने के लिए एक मासूम को अगवा करने का मामला सामने आया है। मामला जालंधर का है। हालांकि पुलिस ने आरोपी को वाराणसी से गिरफ्तार कर लिया है और मासूम को उसके घरवालों को सौंप दिया है।


जालंधर के पक्का बाग के रहने वाले सरफराज अहमद के पास एक नाबालिग लड़का काम करता था। कुछ दिन पहले दोनों में पैसों को लेकर झगड़ा हो गया। सरफराज अहमद ने लड़के को थप्पड़ मार दिया। इसी से नाराज होकर नाबालिग लड़के ने उस थप्पड़ का बदला लेने के लिए मालिक के सात साल के बेटे अबु को अगवा कर लिया।

आरोपी अबु को लेकर यूपी जा रही ट्रेन में बैठ गया। पुलिस के अनुसार आरोपी पूरे रास्ते मोबाइल फोन का इस्तेमाल करता रहा। इससे पुलिस को उसकी लोकेशन का पता चलता रहा। पुलिस ने वाराणसी के रहने वाले 16 साल के आरोपी को बाल सुधार गृह भेजा गया है और मासूम अबु को उसके घरवालों को सौंप दिया है।

कुछ खिलाने के बहाने लेकर गया था

आरोपी मासूम अबु के साथ अच्छे से घुला-मिला था। वह अबु को ट्यूशन भी देता था और अकसर घूमने भी ले जाया करता था। इसी बात का फायदा उठाकर आरोपी पहले मासूम को कुछ खिलाने के बहाने घर से बाहर ले गया, फिर कैंट स्टेशन जाकर यूपी की ट्रेन में चढ़ गया।

Related Links