गैंगस्टर भुल्लर और जस्सी का कोलकाता में एनकाउंटर, पंजाब और कोलकाता पुलिस ने मार गिराया



जगरांव की नई अनाज मंडी में दो एएसआई की हत्या करने वाले गैंगस्टरों का कोलकाता के अपार्टमेंट के फ्लैट में पुलिस से हुआ आमना-सामना

वेब ख़बरिस्तान। पंजाब के जगरांव की नई अनाज मंडी में दो एएसआई की गोली मारकर हत्या करने वाले गैंगस्टर जैपाल भुल्लर और जसप्रीत सिंह जस्सी की एनकाउंटर में मौत हो गई है। ये कार्रवाई पंजाब पुलिस के आर्गेनाइज्ड क्राइम कंट्रोल यूनिट (ओकू) और लोकल कोलकाता पुलिस ने की। सुबह जब पंजाब और कोलकाता की पुलिस मौके पर पहुंची तो ये हाई राइज फ्लैट में छुपे हुए थे। भुल्लर पर दस लाख रुपए और जस्सी पर पांच लाख रुपए का इनाम था। दोनों पर राजस्थान और पंजाब में कई मामले दर्ज हैं।

किराये के फ्लैट में रह रहे थे

पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता ने बताया कि दोनों राजारहाट न्यूटाउन हाईराइज अपार्टमेंट सपूरजी में किराये पर रह रहे थे। पुलिस ने बुधवार को लुधियाना के साहनेवाल के भरत कुमार को शंभू बार्डर पर गिरफ्तार किया तो पता चला कि उसने 22 मई को भुल्लर और जस्सी को फ्लैट किराए पर दिलाया था। भरत के पास रेंट डीड भी थी। 

मामले में पहले गिरफ्तार दर्शन सिंह के पास जो गाड़ी थी। उस पर बंगाल का नंबर था। दर्शन से पूछताछ में भरत का नाम आया था। पंजाब पुलिस ने कोलकाता पुलिस से बात की। ओकू की टीम पहले ही कोलकाता में थे। दोनों राज्यों की पुलिस ने दोपहर करीब साढ़े तीन बजे दोनों को एकाउंटर के दौरान मार गिराया।

पुलिस पर चलाई गोलियां


डीजीपी ने बताया कि पुलिस ने दोनों को पकड़ने के लिए जबरन दरवाजा खुलवाया तो दोनों ने अलमारी और पलंग की आड़ में गोलियां चलाईं। जवाई कार्रवाई में दोनों मारे गए। कोलकाता एसटीएफ के एएसआई कार्तिक मोहन घोष घायल हुए हैं। उन्हें दो गोलियां लगीं। कमरे से विस्फोटक भी मिला है।

मध्य प्रदेश में हुई थी गिरफ्तारी

इससे पहले पुलिस नो भुल्लर के साथी बलजिंदर सिंह उर्फ बब्बी पुत्र गुरनाम सिंह वासी माहला खुर्द मोगा और दर्शन सिंह पुत्र प्रीतम सिंह निवासी सहौली को मध्य प्रदेश से गिरफ्तार किया था। बीती 15 मई को नई अनाज मंडी में सीआईए स्टाफ में तैनात एएसआई भगवान सिंह और दलविंदर सिंह की गैंगस्टर ने गोली मार हत्या कर दी थी।

 पुलिस ने गैंगस्टर जयपाल भुल्लर, बलजिंदर सिंह, जसप्रीत सिंह और दर्शन सिंह के खिलाफ केस दर्ज किया था। यह चारों आरोपी फरार चल रहे थे। वारदात के बाद चारों साथ थे। बाद में अलग-अलग हो गए थे। दोनों कोलकाता के एक होटल में भी रुके थे।  न्यूज 18 की रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस से आमने सामने एनकाउंटर में दोनों की मौत हो गई।

आठ लोग हुए थे गिरफ्तार 

दो एएसआई की हत्या के मामले में पुलिस आठ लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। गैंगस्टर का सहयोग देने वाले छह आरोपियों को 20 मई को गिरफ्तार किया गया था। इसमें गैंगस्टर दर्शन सिंह की पत्नी सतपाल कौर उर्फ नोनी, नानक चंद उर्फ नानक, गगनदीप सिंह उर्फ नन्ना, गुरप्रीत सिंह उर्फ लक्की और रमनदीप कौर उर्फ रमन शामिल हैं। इन सभी से पुलिस ने भारी मात्रा में असलाह भी बरामद किया था।

जयपाल भुल्लर ने रूप बदला 

वारदात के बाद जयपाल भुल्लर ने अपने वेष बदल लिया था। कभी वह पगड़ी बांधता था तो कभी वह क्लीन शेव कर लेता था। एनकाउंटर के दौरान भी जयपाल भुल्लर का वेश पूरी तरह बदला हुआ था। पुलिस दो तीन दिन से दोनों की रेकी कर रही थी। सीक्रेट आप्रेशन के दौरान दोनों को पुलिस ने मौत के घाट उतार दिया। भुल्लर के पिता पंजाब पुलिस के रिटायर्ड इंस्पेक्टर हैं। जयपाल के खिलाफ हत्या, हथियारों की तस्करी और नशे से जुड़े 45 केस दर्ज हैं।  

Related Links