किसानों का नए मुख्यमंत्री के नाम सन्देश - मोर्चे पर आए तो स्टेज नहीं मिलेगा, कोई सिर काटकर नहीं देगा और न हमें चाहिए'

पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी

पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी



पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के लिए सिंघु बॉर्डर से एक संदेश आया है

वेब ख़बरिस्तान, जालंधर। पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के लिए सिंघु बॉर्डर से एक संदेश आया है। मुख्यमंत्री चन्नी ने सिंघु बॉर्डर पर जाकर किसानों से बात करने का प्रस्ताव रखा था। मागर किसानों का जवाब आया कि अगर वे किसान मोर्चे पर जाते हैं तो उन्हें ना तो स्टेज मिलेगा और ना ही भाषण देने दिया जाएगा। उन्हें पंडाल में बैठकर किसान नेताओं की बात सुननी होगी। संयुक्त किसान मोर्चा के नेताओं ने साफ किया कि किसी भी राजसी नेता को सिंघु में लगी संयुक्त किसान मोर्चा की स्टेज पर चढ़ने और भाषण देने की इजाजत नहीं है।

संयुक्त किसान मोर्चा के नेताओं ने साफ किया कि किसी राजसी नेता को भाषण देने की अनुमति नहीं 

अगर बिल वापिस करवा सकते हैं तो उसके लिए प्रयास करें


मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की ओर से अपना सिर काटकर किसानों को दे देने के बयान पर किसान नेताओं ने कहा कि यह सब कहने की बातें हैं। वे ना तो अपना सिर काटकर देंगे और ना हमें चाहिए। हम केवल कृषि कानून वापस करवाना चाहते हैं। अगर वह यह बिल वापस करवा सकते हैं तो उसके लिए प्रयास करें। दरअसल चरणजीत सिंह चन्नी ने मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद पत्रकारवार्ता करते हुए कहा था कि वह किसानों के लिए हर कुर्बानी देने को तैयार हैं। अगर जरूरत पड़ी तो वह अपना सिर काटकर भी उन्हें दे देंगे।

नवजोत सिंह सिद्धू ने भी जताई थी इच्छा

नवजोत सिंह सिद्धू ने भी कांग्रेस का पंजाब प्रधान बनने के बाद ताजपोशी समारोह में कहा था कि वह किसानों के पास जाना चाहते हैं। ऐलान करने के बावजूद वह अभी तक किसानों से नहीं मिले हैं।

Related Links