स्वतंत्रता दिवस पर डॉ. अंबुज सूद को स्थानीय निकाय मंत्री ने किया सम्मानित

डा. अंबुज सूद को सम्मानित करते स्थानीय निकाय मंत्री इंद्रबीर निज्जर।

डा. अंबुज सूद को सम्मानित करते स्थानीय निकाय मंत्री इंद्रबीर निज्जर।



3000 से अधिक आर्थोपेडिक सर्जरियां कर चुके, विदेश में भी काम करने का अनुभव

खबरिस्तान नेटवर्क, जालंधर। स्वतंत्रता दिवस पर श्री गुरु गोबिंद सिंह स्टेडियम में आयोजित समारोह में हड्डियों और घुटनों के रोगों के माहिर डॉ. अंबुज सूद को मेडिकल जगत में उनकी सेवाओं के लिए सम्मानित किया गया। डा. सूद को यह सम्मान स्थानीय निकाय मंत्री इंद्रबीर निज्जर ने प्रदान किया। डॉ. सूद मेडिकल जगत का प्रसिद्ध नाम हैं और असंख्य रोगियों के घुटनों के दर्द का इलाज कर चुके हैं। भारत के साथ-साथ विदेशों में भी बतौर आर्थोपैडिक सर्जन काम करने का डा. सूद को करीब 15 साल का अनुभव प्राप्त है। जालंधर में वह 9 साल से सेवाएं दे रहे हैं। 


इन 9 सालों में उन्होंने जालंधर व आसपास के क्षेत्रों में 100 से अधिक शिविरों में भाग लेकर मरीजों को घुटनों व हड्डियों के रोग से मुक्ति दिलाई। श्रीदेवी तालाब मंदिर चैरिटेबल अस्पताल में डा. सूद ने 3000 से अधिक आर्थोपैडिक सर्जरियां की जिनमें ट्रॉमा सर्जरियां, ज्वाइंट रिप्लेसमेंट आदि शामिल हैं। रोटरी क्लब के वह अध्यक्ष रह चुके हैं और इस वक्त एक सक्रिय सदस्य के रूप में क्लब की गतिविधियों में भाग लेते हैं। अपने मेडिकल करियर के दौरान डा. सूद ने कई पुरस्कार प्राप्त किए। डा. अंबुज सूद के पिता डा. अनिल सूद देश के जाने-माने बाल रोग विशेषज्ञ हैं और डॉ. अंबुज की पत्नी डा. नूपुर सूद भी बच्चों की प्रसिद्ध डॉक्टर हैं।

Related Tags


Related Links


webkhabristan