इनोवेटर होने के लिए कभी-कभी जो पहले सीखा है उसे भूल जाएं : आईएएस गन्ता

आईके गुजराल पंजाब टेक्निकल युनिवर्सिटी  के मोहाली कैम्पस में पंजाब भर के विभिन्न कालेजों की इनोवेशन एंड एंटरप्रेन्योरशिप डेवलपमेंट कोऑर्डिनेशन मीट का आयोजन किया गया।

आईके गुजराल पंजाब टेक्निकल युनिवर्सिटी के मोहाली कैम्पस में पंजाब भर के विभिन्न कालेजों की इनोवेशन एंड एंटरप्रेन्योरशिप डेवलपमेंट कोऑर्डिनेशन मीट का आयोजन किया गया।



आईके गुजराल पंजाब टेक्निकल यूनिवर्सिटी मोहाली कैंपस में इनोवेशन एंड एंटरप्रेन्योरशिप डेवलपमेंट कोऑर्डिनेशन मीट

मोहाली/चंडीगढ़/ कपूरथला/जालंधर (वेब ख़बरिस्तान ) इन्नोवेटर होने के लिए ये भी जरूरी है कि हम जो पहले सीख चुके हैं उसमें बदलाव लाएं, या उसे भूल जाएं और एक नए लक्ष्य को भेदने के लिए पहले का सीखा नहीं नए पर काम करें। इसके अतिरिक्त जरूरी है कि इन्नोवेशंस मानवीय उथान, निर्माण एवं सकारात्मक नजरिये से हों। गंभीर विषय है कि आज शोध एवं खोज के लिए भी अधिकतर सर्च इंजन के इस्तेमाल  हो रहे हैं। स्वयं करें नया करें एवं हित में करें! यह सन्देश सीनियर आई.ए.एस अधिकारी रामेश कुमार गन्ता, प्रमुख सचिव तकनीकी शिक्षा एवं उद्यौगिक सिखलाई विभाग पंजाब एवं आई.के गुजराल पंजाब टेक्निकल यूनिवर्सिटी जालंधर-कपूरथला के हैं।

वे शुक्रवार को यूनिवर्सिटी के मोहाली कैम्पस में पंजाब भर के विभिन्न कालेजों की इनोवेशन एंड एंटरप्रेन्योरशिप डेवलपमेंट कोऑर्डिनेशन मीट को बतौर मुख्यातिथि सम्बोधन कर रहे थे! उन्होनें इनोवेशन एंड एंटरप्रेन्योरशिप डेवलपमेंट कोऑर्डिनेटर्स को जमीनी स्तर पर उतरकर स्टूडेंट्स की परेशानियों को दूर करते हुए उन्हें प्रेरित करने एवं करने एवं किताबों का अध्ययन करने की बात कही!  सीनियर आई.ए.एस अधिकारी रामेश कुमार गन्ता ने लैंग्वेज बैरियर विषय पर भी अपनी बात रखी।

लिए स्टार्टअप्स एवं इनोवेशन को बढ़ावा देना बेहद जरूरी : आईएएस जसप्रीत सिंह


आई.ए.एस अधिकारी जसप्रीत सिंह, रजिस्ट्रार आई.के. गुजराल पंजाब टेक्निकल युनिवर्सिटी एवं अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर (विकास) जालंधर ने पंजाब सरकार एवं यूनिवर्सिटी की तरफ से स्टार्टअप प्लान्स के संधर्भ में बात रखी। आंकड़ों का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि पंजाब की अर्थव्यवस्था को स्थिर करने के लिए स्टार्टअप्स एवं इनोवेशन को बढ़ावा देना बेहद जरूरी है। उन्होंने कहा कि यूनिवर्सिटीज एवं कॉलेज स्तर पर ही स्टूडेंट्स को अगर रोजगार देने वाले बनने एवं खुद का व्यवसाय करने वाले बनने को प्रेरित किया जाये तो वह दिन दूर न होगा जब पंजाब सबके लिए रोजगार के अवसर हाथ में लेकर खड़ा होगा! आई.ए.एस जसप्रीत सिंह ने इस अवसर पर स्टूडेंट्स एवं कोऑर्डिनेटर्स की विभिन्न जिज्ञासाओं को भी शांत किया।

इस दौरान प्रमुख सचिव सीनियर आई.ए.एस रामेश कुमार गन्ता की तरफ से वर्ष 2021 के लिए टैप बिजनेस प्लान प्रतियोगिता का उद्घाटन भी किया गया।उन्होंने कहा कि यह एक राज्य स्तरीय प्रतियोगिता है, जिसमें आई.के.जी पी.टी.यू के कैम्पस एवं संबद्ध कॉलेजों के स्टूडेंट्स की टीम भाग ले सकती हैं।

उद्यमी भी लेंगे हिस्सा

इंजीनियर नवदीपक संधू, डिप्टी डायरेक्टर कॉर्पोरेट रिलेशन्स एंड एलुमिनाई ने बताया कि प्रतियोगिता का उद्देश्य स्टूडेंट्स में प्रारंभिक उत्साह पैदा करना, उन्हें इनोवेशन के लिए शिक्षा देना एवं लीक से हटकर सोचना के अवसर प्रदान करना है। इस प्रतियोगिता के बारे में स्टूडेंट्स को जागरूक करने के लिए  प्रदेश के 20 बड़े उद्यमी (इंडस्ट्रिलिस्ट) जागरूकता शिविर में ऑफलाइन एवं ऑनलाइन दोनों तरह से भाग लेंगे।

इन जागरूकता शिविरों के दौरान, टाई (टी.आई.ई) के इम्मीडिएट पास्ट प्रेजिडेंट हिरदेश मदान, संस्थापक सी.ई.ओ. भी छात्रों के साथ अपनी उद्यमशीलता के अनुभव साझा करेंगे। इसके आलावा रॉबिन अग्रवाल वाईस प्रेजिडेंट (टाई)  टी.आई.ई एवं आई.के.जी पी.टी.यू के सीनियर अधिकारी, फैकल्टी भी इसमें हिस्सा लेगी।

Related Links