कंसट्रेटर को कस्टम क्लीयरेंस न मिलने से नहीं शुरू हुआ आक्सीजन का लंगर



कोरोना मरीजों के लिए एसजीपीसी ने किया है आक्सीजन के लंगर का प्रबंध, विदेश से 500 आक्सीजन कंसंट्रेटर मंगवाए हैं

वेब खबरिस्तान। पंजाब में आक्सीजन की कमी के कारण किसी की जान न जाए इसके लिए एसजीपीसी (शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी) ने गुरुघरों में कोरोना मरीजों के लिए आक्सीजन कंसंट्रेटर का प्रबंध किया है। इस मुहिम को 'आक्सीजन दा लंगर नाम दिया गया है। मुहिम बुधवार को लुधियाना के आलमगीर साहिब गुरुद्वारा से शुरू होनी थी। एसजीपीसी अध्यक्ष बीबी जगीर कौर ने शुभारंभ करना था, लेकिन कस्टम से क्लीयरेंस न मिलने के कारण कंसंट्रेटर नहीं पहुंच पाए। 

गुरुद्वारा साहिब के दीवान हाल में 25 बेड, दो डाक्टर, नर्सिंग स्टाफ आदि की व्यवस्था कर दी गई है। सूबे के चार गुरुद्वारा साहिब में कोविड सेंटर तैयार कर आक्सीजन कंसंट्रेटर लगाए जाएंगे। एसजीपीसी ने विदेश से 500 आक्सीजन कंसंट्रेटर मंगवाए हैं।

एक दो दिन में पहुंचेंगे कंसंट्रेटर


उम्मीद है कि एक-दो दिन में आक्सीजन कंसंट्रेटर पहुंचने के साथ ही इसकी शुरुआत कर दी जाएगी। दमदमा साहिब तलवंडी साबो (बठिंडा), भुलत्थ (कपूरथला) के एक गुरुद्वारा साहिब और पटियाला के मोतीबाग स्थित गुरुद्वारा साहिब में भी मई के अंत तक कोविड सेंटर तैयार कर आक्सीजन कंसंट्रेटर लगा दिए जाएंगे।  दूसरे चरण में जिन जिलों में आक्सीजन की जरूरत है वहां गुरुद्वारा साहिबों में कोविड सेंटर बनाकर आक्सीजन कंसंट्रेटर लगाए जाएंगे। 

हर सेंटर में तैनात रहेगी मेडिकल टीम व एंबुलेंस 

जिन गुरुद्वारों में कोविड सेंटर बनाकर आक्सीजन कंसंट्रेटर लगाए जाएंगे वहां मेडिकल टीमें भी तैनात रहेंगी। हर सेंटर पर दो डाक्टर और नर्सिंग स्टाफ होगा। अगर किसी मरीज को वेंटिलेटर की जरूरत पड़ती है तो एंबुलेंस की व्यवस्था भी है एसजीपीसी ने मुख्य सचिव और जिला प्रशासन को अवगत करवा दिया है। 

रूस से पहुंचे 18 आक्सीजन कंसंट्रेटर:  

एसजीपीसी अध्यक्ष बीबी जगीर कौर का कहना है कि रूस से 18 कंसंट्रेटर आ गए हैं। कस्टम से क्लीयरेंस मिलते ही इन्हें लुधियाना में लगाया जाएगा। विदेश से 500 आक्सीजन कंसंट्रेटर मंगवाए गए हैं। मई के अंत तक सभी आ जाएंगे। लुधियाना और पटियाला में बड़ी गिनती में मरीज सामने आ रहे हैं इसलिए पहले वहां लगाए जा रहे हैं। 

Related Links