पठानकोट में पांच मुर्गियों में मिला बर्ड फ्लू, सैकड़ों मुर्गियां मारने के आदेश जारी

पठानकोट में दवाई का छिड़काव करने के लिए पहुंची टीम।

पठानकोट में दवाई का छिड़काव करने के लिए पहुंची टीम।



120 अन्य पालतू परिंदों को भी किया दफन, संक्रमित मुर्गियों के पोलट्रीफार्म में किया गया दवाई का छिड़काव

वेब खबरिस्तान। कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच पंजाब में एक बार फिर बर्ड फ्लू ने दस्तक दी है। पठानकोट में बर्ड फ्लू की दस्तक से हड़कंप मच गया है। पिछले माह गांव छतवाल में लिए गए सैपलों में से पांच मुर्गियों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। जिला प्रशासन ने संक्रमित मिली मुर्गियों वाले दो पोल्ट्री फार्म की सैकड़ों मुर्गियों को नष्ट करवा दिया है। 120 अन्य पालतू पक्षियों को भी मारने के आदेश जारी कर दिए गए हैं।


गांव छतवाल में मार्च में कुछ मुर्गियों के सैंपल लिए गए थे। इनमें से 5 मुर्गियों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। इसके बाद प्रशासन हरकत में आया और संक्रमित मुर्गियों के दो पोल्ट्री फार्म की सैकड़ों मुर्गियों को नष्ट करवा दिया। संक्रमित पोल्ट्री फार्मों में दवाई का छिड़काव भी करवाया गया है। इलाकावासियों को पोल्ट्री फार्म से दूर रहने की हिदायत दी गई है। इसके अलावा 120 अन्य पालतू पक्षियों को भी मारने के आदेश दिया गया है। छतवाल गांव के एपिक सेंटर के एक किलोमीटर एरिया को संक्रमित जोन घोषित कर दिया गया है और छतवाल के पशु अस्पताल में कंट्रोल रूम स्थापित कर दिया गया है।

जिला प्रशासन ने पत्र जारी कर नगर निगम, पुलिस विभाग, उप मंडल मजिस्ट्रेट, पशु पालन विभाग, सेहत विभाग और नापतोल विभाग के अफसरों की ड्यूटियां लगाई हैं। नगर निगम पठानकोट से भेजी गई जेसीबी की सहायता से पहले मुर्गियों को दफनाया गया, फिर दवाई का छिड़काव किया गया।

Related Links