तेल खर्च लेने वाला एएसआई कॉल रिकॉर्डिंग से फंसा

bribe-case

bribe-case



विजीलेंस ने 3000 रुपए रिश्वत लेने के मामले में गिरफ्तार किया

बरनाला विजिलेंस विभाग बरनाला ने थाना रुड़ेके कलां में तैनात एएसआई को 3 हजार रिश्वत लेने के आरोप में काबू किया है। ये पैसे उसने एक मामले की जांच के दौरान तेल खर्च के रूप में लिए थे। बाद में फोन पर बातचीत में उसने तीन हजार रुपए वापस ले जाने की बात कही थी, जिसे पीड़ित ने फोन में रिकार्ड कर लिया था।

विजिलेंस ब्यूरो यूनिट बरनाला के डीएसपी सतपाल सिंह व डीएसपी केस इंचार्ज सुरिंद्रपाल बांसल ने कहा कि थाना रुड़ेके कलां में तैनात एएसआई बलदेव सिंह को 3 हजार रिश्वत के आरोप में काबू किया है। हरप्रीत कौर पत्नी रणजीत सिंह उर्फ मक्खन निवासी रुड़ेके कलां द्वारा 18 अप्रैल 2019 को पुलिस हेल्पलाइन 181 पर परमजीत सिंह निवासी अकलिया जिला मानसा, सुखपाल कौर निवासी प्यारा कॉलोनी बरनाला समेत तीन अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई थी। जिसकी पड़ताल एएसआई बलदेव सिंह कर रहे थे।

मांगे थे 15000 रुपए


जब शिकायतकर्ता हरप्रीत कौर के पति रणजीत सिंह और नाजर सिंह ने थाना रुड़ेके कला में जाकर एएसआई बलदेव सिंह से उनकी पत्नी द्वारा शिकायत पर पैरवी के बारे पूछताछ की, तो एएसआई बलदेव सिंह ने कार्रवाई को लेकर तेल खर्च के नाम पर 15000 रिश्वत मांगी।

रणजीत सिंह ने 3000 रुपए दे दिया। जब रंजीत सिंह ने उसकी पत्नी द्वारा दी गई शिकायत की रिपोर्ट विरोधी पक्ष के हक में जाते देखी, तो उन्होंने एएसआई बलदेव सिंह से बातचीत की तो उन्होंने कहा कि उनकी शिकायत एसएसपी दफ्तर भेज दी है।

फोन पर कहा पैसे वापस ले जाओ

जब उन्होंने रिश्वत के दिए 3000 वापस करने की मांग की, तो उन्होंने कहा कि वह अपने 3000 जब मर्जी ले जाएं। इसी बात की रणजीत सिंह ने फोन पर हुई बातचीत की रिकॉर्डिंग कर ली, जिसके आधार पर विजिलेंस विभाग बरनाला ने एएसआई बलदेव सिंह को रिश्वत मामले में काबू किया है। एएसआई बलदेव सिंह ने 3000 रिश्वत ली है व इसी के तहत एएसआई पर केस दर्ज करके काबू किया है।

Related Links