जीवन रक्षक दवाओं की कालाबाजारी पर रोक लगाएं कैप्टन  : सुखबीर बादल

सुखबीर बादल। फाइल फोटो।

सुखबीर बादल। फाइल फोटो।



शिअद अध्यक्ष ने कहा हालात से निपटने के लिए सरकार सही काम करे तो हम साथ

वेब खबरिस्तान। शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर बादल ने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को डिप्टी कमिश्नरों के साथ कोविड की बिगड़ती स्थिती को लेकर सीधी बात करने की सलाह दी है। सुखबीर ने कहा कि मुख्यमंत्री को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि राज्य में जीवन रक्षक दवाओं की कालाबाजारी नहीं हो। 


सुखबीर ने कहा कि महामारी से बचने का एकमात्र तरीका टीकाकरण ही है। पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने भी 94 साल की उम्र में टीका लगवाया है। पंजाब सरकार ने टीकों के लिए आदेश देने में देरी की। सरकार को वैक्सीन की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक कार्रवाई करनी चाहिए। सुखबीर ने कहा कि हालात बहुत ज्यादा खराब हैं। मुख्यमंत्री ने इस सबकी जिम्मेदारी अधिकारियों पर डाल दी है। 

मनमानी कर रहे एंबुलेस वाले

बादल ने कहा कि उनके पास जानकारी आ रही है कि 1000 कीमत की रेमडिसिवर जैसी जीवन रक्षक दवा 30 हजार रुपये में बिक रही है। एंबुलेंस पर कम दूरी के लिए 10 से 30 हजार तक वसूले जा रहे हैं।  एंबुलेंस मरीजों और उनके रिश्तेदारों से क्या चार्ज कर सकती है इसकी एक सीमा तय की जानी चाहिए।  शिरोमणी अकाली दल सरकार के साथ हर सहयोग के लिए तैयार है जैसा कि अतीत में किया है, लेकिन सरकार को लोगों की तकलीफों को कम करने के लिए अधिक सक्रिय दृष्टिकोण अपनाना चाहिए। 

Related Links