जालंधर के स्कूलों में अब आधा स्टाफ ही बुला सकेंगे प्रबंधक



कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच राज्य सरकार की ओर से एजूकेशनल इंस्टिट्यूट बंद कर दिए गए थे।

वेब खबरिस्तान, जालंधर। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच राज्य सरकार की ओर से पहले ही सभी एजूकेशनल इंस्टिट्यूट बंद कर दिए गए थे। केवल स्टाफ ही स्कूल आ रहा था। लेकिन अब जालंधर में डीसी घनश्याम थोरी के आदेशों के अनुसार प्राइवेट, एडिड व सरकारी स्कूलों में आधा स्टाफ ही बुलाया जायेगा।  अब जिन स्कूलों में स्टाफ व टीचर मिलाकर 10 से ज्यादा लोग हों, वहां सिर्फ 50% को ही स्कूल बुलाया जा सकेगा। इसके लिए भी रोटेशन बनाना होगा। इस दौरान कोरोना से बचाव के लिए सभी का मास्क पहनना , सोशल डिस्टेंस रखना और सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना अनिवार्य है। अगर कोई इसका उल्लंघन करता है तो उसके खिलाफ जिला मजिस्ट्रेट के आदेशों पर उल्लंघन का केस दर्ज होगा।

शिक्षा विभाग तक पहुंची शिकायतें


दरअसल स्कूलों में बच्चे नहीं आ रहे थे लेकिन इसके बाद भी पूरे स्टाफ को बुलाया जा रहा था। इसकी शिकायतें शिक्षा विभाग तक पहुंची। इसके बाद सेकेंडरी शिक्षा के डायरेक्टर ने इस संबंध में आदेश जारी किये।

Related Links