अगले हफ्ते से पंजाब के इन दो जिलों में होगी वैक्सीन मॉक ड्रिल

vaccine

vaccine



चार राज्यों के कुल आठ जिलों में की जाएगी मॉक ड्रिल

जालंधरः कोरोना माहामारी को लेकर दुनिया भर में जंग जारी है। कई देशों में कोरोना वैक्सीन के टीकाकरण की प्रक्रिया भी शुरू हो चुकी है। भारत में भी अगले हफ्ते में कोरोना वैक्सीन के उपलब्ध होने की आशंका है। इसे परखने के लिए सोमवार और मंगलवार को मॉक ड्रिल की जाएगी। ये ड्रिल पंजाब, गुजरात, आंध्रप्रदेश और असम में की जाएगी। इन चारों राज्यों के दो-दो जिलों में यह प्रक्रिया की जाएगी। मॉक ड्रिल के दौरान उन सभी प्रक्रियाओं का पालन किया जाएगा जो वास्तविक वैक्सीन लगाने के दौरान अपनाई जाएंगी। इस दौरान आने वाली कमियों को समय रहते दूर किया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू का कहना है कि मॉकड्रिल प्रक्रिया के लिए पंजाब से लुधियाना और नवांशहर जिले को शॉर्टलिस्ट किया गया है। इन दोनो जिलों में 5-5 स्थानों पर मॉक ड्रिल की जाएगी।

उल्लेखनीय है कि भारत में तीन फार्मा कंपनियां कोरोना वैक्सीन के लिए मंजूरी मांग चुकी हैं। फाइजर कंपनी ने भी भारत में वैक्सीन के लिए मंजूरी मांगी है। फाइजर के अलावा सीरम इंस्टीट्यूट व भारत बायोटेक भी मंजूरी मांग चुकी हैं।

इन लोगों को पहले दी जाएगी वैक्सीन


पुलिस, आर्मी, नगर निगम और जिला प्रशासन में कार्य कर रहे फ्रंट लाइन वर्कर्स की भी लिस्ट तैयार की जा रही है। ये लिस्ट संबंधित विभागों की ओर से बनाई जा रही है। हैल्थ केयर वर्कर्स के बाद इस लिस्ट के आधार पर फ्रंट लाइन वर्करों को वैक्सीन लगाई जाएगी।

वैक्सीन की पूरी डिटेल नोट की जाएगी

स्थानीय वैक्सीन सेंटर से जिले के कोल्ड चेन सेंटर तक दवा पहुंचाई जाएगी। यहां से तय स्वास्थ्य केंद्र, जिला अस्पताल पर पहुंचाई जाएगी। वैक्सीनेशन के दौरान मेडिकल अफसर, वैक्सीनेटर, वैक्सीन हैंडलर, सुपरवाइजर, मैनेजर, आशा को-ऑर्डिनेटर मौके पर मौजूद रहेंगे। किसी भी तरह के साइड इफेक्ट्स आने पर मरीज को हेल्थ फैसिलिटी पहुंचाने की व्यवस्था, इंफेक्शन कंट्रोल प्रैक्टिस के लिए भी विशेषज्ञ मौके पर मौजूद रहेंगे। भीड़ नियंत्रित करने के लिए मानव संसाधन की व्यवस्था भी की जाएगी। सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन भी किया जाएगा। वैक्सीन के बारे में पूरी जानकारी, संख्या ‘को-विन’ पोर्टल पर उपलब्ध रहेगी। किस मरीज को किस कंपनी की डोज किस वेक्सीनेटर ने दी इन सब की जानकारी को नोट किया जाएगा।

पंजाब में कोरोना के मरीजों की स्थिति

पंजाब में कोरोना के एक्टिव मरीजों की दर 2.9 फीसद हो गई है। तीन महीने के बाद 24 घंटे में होने वाली मौतों का आंकड़ा दहाई के आंकड़े से नीचे आ गया है। पंजाब में एक्टिव मरीजों की संख्या कम होकर 4,673 रह गई है। शुक्रवार को सूबे में 9 मरीजों की कोरोना के कारण मौत मौत हुई है। 322 नए मरीज आए हैं। जालंधर में सबसे ज्याद 3 मौतें हुई हैं। जबकि पटियाला, लुधियाना, होशियारपुर, अमृतसर, मोगा और फरीदकोट में एक-एक मौत हुई है।

Related Links