32413 स्टूडैंट्स 13 को देंगे एनटीएसई स्टेज वन टेस्ट

ntse

ntse



मॉक टेस्ट के लिए 70 % स्टूडैंटस पहुंचे स्कूल, 30 फीसदी ने घर बैठ दिया टेस्ट

जालंधर। नेशनल टैलेंट सर्ज एग्जाम (एनटीएसई) स्टेज वन का टेस्ट 13 दिसंबर को होने जा रहा है। राज्य के 32413 और जालंधर के 2172 स्टूÞडैंट्स इस टेस्ट में बैठेंगे। स्टूडेंट्स की तैयारियों का आंकलन करने के लिए सोमवार को माक टेस्ट लिया गया। इस मॉक टेस्ट को देने के लिए 70 फीसद स्टूडेंट्स स्कूल पहुंचे। 30 फीसद स्टूडेंट्स ने घर बैठ आॅनलाइन टेस्ट दिया।

प्रोजेक्टर पर डिसप्ले प्रश्न पत्र


स्कूलों में स्टूडेंट्स की सुविधा के लिए प्रोजेक्टर लगाए गए थे, जहां उन्हें माक टेस्ट का प्रश्न पत्र डिसप्ले किया गया था, जबकि स्टूडेंट्स को ओएमआर शीट दी गई थी। स्टूडेंट्स प्रोजेक्टर से प्रश्न देख कर ओएमआर शीट पर आब्जेक्टिव प्रश्नों के उत्तर पर मार्क कर रहे थे। बता दें पहले दिन 100 अंक का मेंटल एलिजिबिलिटी टेस्ट (मैट) हुआ। इसके लिए स्टूडेंट्स को सुबह 10 से 12 बजे तक का समय दिया गया था।

ओएमआर शीट देख बताएंगे कमियां

ओएमआर शीट चैक कर जिला मेंटोर्स (डीएम) और ब्लाक मेंटोर्स (बीएम) स्टूडेंट्स को उनकी कमियां बताएंगे। ताकि स्टूÞडेंट्स अपनी कमियों को दूर कर सकें। जिसके लिए योजना भी बनाई जाएगी। इन 32 हजार स्टूडैटं्स को खास ट्रेनिंग भी दिलाई गई है। ताकि ज्यादा से ज्यादा बच्चे इस टेस्ट को क्लीयर कर सकें।

डीईओ को मिली प्रोजेक्ट की जिम्मेदारी

परीक्षा का संचालन सही ढंग से करवाने को जिला शिक्षा अधिकारी (डीईओ) सेकेंडरी हरिंदरपाल सिंह को पहले ही जिला प्रोजेक्ट डायरेक्टर एनटीएसई और डिप्टी डीईओ राजीव जोशी को जिला प्रोजेक्ट कोआर्डिनेटर बनाया गया है। जिला मेंटोर के तौर पर सेवाएं देने वाले शिक्षकों को जिला प्रोजेक्ट मेंटोर, ब्लाक मेंटोर को ब्लाक प्रोजेक्ट मेंटोर और स्कूल मुखियों को स्कूल प्रोजेक्ट कोआर्डिनेटर नियुक्त किया है।

Related Links