अहम ख़बरः देश के इन बड़े तीन बैंकों के 1 फरवरी से बदल जाएंगे नियम,पैसे ट्रांसफर करने पर लगेगा इतना चार्ज

1 फरवरी से बदलेंगे इन बैंको के नियम

1 फरवरी से बदलेंगे इन बैंको के नियम



अगर आपका अकाउंट पंजाब नेशनल बैंक, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया या बैंक ऑफ बड़ौदा में है तो ये आपके लिए जरूरी ख़बर है।

वेब ख़बरिस्तान। अगर आपका अकाउंट पंजाब नेशनल बैंक, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया या बैंक ऑफ बड़ौदा में है तो ये आपके लिए जरूरी ख़बर है। दरसअल, 1 फरवरी से बैंक ऑफ बड़ौदा ग्राहकों के लिए चेक क्लीयरेंस से जुड़े नियम में बदलाव होने वाला है। वहीं, एसबीआई और पीएनबी के ग्राहकों के लिए पैसों के ​लेनदेन संबंधित बदलाव होंगे। 


बैंक ऑफ बैंक की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक 1 फरवरी से चेक पेमेंट के लिए कंफर्मेशन अनिवार्य होगा। अगर कंफर्मेशन नहीं होता है तो चेक को वापस भी किया जा सकता है। बैंक ने ग्राहकों से अपील की है-हमारा सुझाव है कि आप सीटीएस क्लीयरिंग के लिए पॉजिटिव पे सुविधा का लाभ  लें।

पंजाब नेशनल बैंक भी अगले महीने से एक अहम नियम बदलने जा रहा है। PNB के मुताबिक, 1 फरवरी से आपकी किसी किस्त या निवेश का डेबिट अकाउंट (Debit account) में पैसा न होने की वजह से फेल होता है तो इसके लिए 250 रुपए देने होंगे। अभी तक इसके लिए 100 रुपए का चार्ज लगता था। अगर आप डिमांड ड्राफ्ट को कैंसिल कराते हैं तो अब 150 रुपए देने होंगे। इसके लिए अभी 100 रुपए चार्ज लगता था। 

वहीं अगर सबीआई के ग्राहक हैं तो अब आपको पैसे ट्रांसफर करना महंगा पड़ने वाला है। एसबीआई की वेबसाइट के अनुसार, बैंक ने 1 फरवरी 2022 से आईएमपीएस ट्रांजेक्शन में एक नया स्लैब जोड़ा है, जो 2 लाख से 5 लाख रुपये का है। अगले महीने से 2 लाख रुपये से 5 लाख रुपये के बीच बैंक ब्रांच से IMPS के माध्यम से पैसे भेजने का शुल्क 20 रुपये प्लस GST लगेगा।  

Related Links