नहीं खत्म होगा संयुक्त किसान मोर्चा का आंदोलन, प्रधानमंत्री को लिखेंगे पत्र

राजेवाल ने बताया कि प्रधान मंत्री नरिंदर मोदी को खुला पत्र लिखा जा रहा है।

राजेवाल ने बताया कि प्रधान मंत्री नरिंदर मोदी को खुला पत्र लिखा जा रहा है।



संयुक्त किसान मोर्चा का आंदोलन अभी जारी रहेगा। यह फैसला बैठक में लिया गया है।

वेब ख़बरिस्तान,लुधियाना। संयुक्त किसान मोर्चा का आंदोलन अभी जारी रहेगा। यह फैसला बैठक में लिया गया है। भारतीय किसान यूनियन राजेवाल के अध्यक्ष बलवीर सिंह राजेवाल और जतिंदर सिंह विर्क ने पत्रकारों को बताया कि 22 नवंबर को लखनऊ में महापंचायत बुलाई गई है। 26 नवंबर को किसान बड़ी संख्या में बार्डर पर पहुंच रहे हैं। अभी 27 नवंबर को संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक दोबारा बुलाई जाएगी और अगले संघर्ष पर विचार किया जाएगा।

पीएम का ऐलान स्वागत के लायक नहीं


बलवीर सिंह राजेवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एलान के बाद अभी तक सरकार ने बातचीत का आह्वान नहीं किया है। उन्होंने कहा कि पीएम द्वारा किया गया एलान अभी स्वागत के लायक नहीं है। चूंकि अभी कानून रद्द करने का एलान हुआ है, जब तक यह रद्द नहीं होते और एमएसपी गारंटी बिल नहीं लाया जाता और दूसरी मांगें नहीं मानी जातीं तब तक स्वागत नहीं किया जाएगा।

पीएम को पत्र लिख बतायेंगे अपनी मांग

राजेवाल ने बताया कि प्रधान मंत्री नरिंदर मोदी को खुला पत्र लिखा जा रहा है। इसमें एमएसपी गारंटी बिल के लिए कमेटी का गठन करने, बिजली शोष बिल को रद्द करने, पराली जलाने पर लाए गए कानून को रद्द करने जैसी मांगों के बारे में जानकारी दी जाएगी। इसके बाद ही अगले संघर्ष की रूप रेखा तैयार की जाएगी। जब तक यह मांगें नहीं मानी जाती तब तक संघर्ष को जारी रखा जाएगा।

29 नवंबर को होने वाले ट्रैक्टर मार्च पर सस्पेंस समाप्त

किसान संगठनों ने 29 नवंबर को संसदीय सत्र के दौरान टीकरी और सिंघु बॉर्डर से 500-500 किसानों के जत्थे ट्रैक्टरों पर भेजने का ऐलान किया हुआ है। बैठक में फैसला लिया गया है कि यह भी होगा।

Related Links