मार्च तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज को दोगुने से भी अधिक लाभ



13,227 करोड़ रुपये पर पहुंच गया जनवरी-मार्च में कंपनी का लाभ

वेब खबरिस्तान, मुंबई। देश के अरबपति कारोबारी मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआइएल) को बीते वित्त वर्ष की चौथी व आखिरी तिमाही में दोगुने से भी अधिक लाभ हुआ है। शुक्रवार को कंपनी ने शेयर बाजारों को बताया कि जनवरी-मार्च, 2021 तिमाही में उसका कंसोलिडेटेड शुद्ध लाभ 13,227 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है। कंपनी को पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 6,348 करोड़ का लाभ हुआ था। कंपनी के मुताबिक उसके रिटेल व टेलीकॉम कारोबार ने समीक्षाधीन तिमाही में बेहतरीन प्रदर्शन किया है। कंपनी के पेट्रोकेमिकल्स कारोबार का प्रदर्शन भी बेहतरीन रहा। इसी कारण रिफाइनिंग कारोबार में लगातार सुस्ती के बावजूद भी कंपनी के तिमाही नतीजे बहुत अच्छे निकले हैं।

13.6 फीसद बढ़ा राजस्व


आरआइएल ने बताया है कि समीक्षाधीन तिमाही में उसका राजस्व 13.6 प्रतिशत से बढ़कर 1,72,095 करोड़ रुपये हो गया है। इस अवधि में जियो ने पिछले वित्त वर्ष के मुकाबले 47.5 फीसद के उछाल के साथ 3508 करोड़ का मुनाफा कमाया है। तीन महीनों में कंपनी ने 1.54 करोड़ ग्राहक जोड़े हैं। दूसरी ओर ग्रॉसरी से हासिल रिकॉर्ड राजस्व ने कंपनी के रिटेल कारोबार में 41 फीसद मुनाफे के उछाल के साथ कंपनी के राज्सव को 3623 करोड़ रुपये पहुंचा दिया है। समीक्षाधीन तिमाही में कंपनी ने 826 स्टोर्स शुरू किए हैं। इससे अब उसके स्टोर्स की संख्या 12,711 हो गई है।

रिफाइनिंग कारोबर नहीं रहा अच्छा

कंपनी के रिफाइनिंग कारोबार का प्रदर्शन उतना अच्छा नहीं रहा। समीक्षाधीन तिमाही में कंपनी के ऑयल-टु-केमिकल्स कारोबार का लाभ 4.6 फीसद गिरा है। इससे यह 11407 करोड़ रुपये रह गया है।

इन नतीजों के बारे में कंपनी के चेयरमैन मुकेश अंबानी का कहना है कि कंपनी के रिटेल व डिजिटल सर्विसेज कारोबार ने शानदार प्रदर्शन किया है। महामारी के इस वर्तमान दौर में हमारी प्राथमिकता देश को कोरोना से बाहर निकालने की है।

Related Links