नए कोरोना वैरिएंट पर पीएम मोदी की इमरजेंसी मीटिंग, कोरोना और टीकाकरण पर शीर्ष अधिकारियों से चर्चा

दक्षिण अफ्रीका में पाए गए कोरोना के नए वैरिएंट ओमीक्रोन के बाद यह इमरजेंसी बैठक हो रही है

दक्षिण अफ्रीका में पाए गए कोरोना के नए वैरिएंट ओमीक्रोन के बाद यह इमरजेंसी बैठक हो रही है



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आज शीर्ष सरकारी अधिकारियों के साथ कोरोना वायरस और टीकाकरण से संबंधित स्थिति पर बैठक चल रही।

वेब ख़बरिस्तान,नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आज शीर्ष सरकारी अधिकारियों के साथ कोरोना वायरस और टीकाकरण से संबंधित स्थिति पर बैठक चल रही। इसमें कैबिनेट सचिव राजीव गौबा, पीएम के प्रधान सचिव पीके मिश्रा, केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण और नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डा. वीके पाल शामिल हुए। दरअसल दक्षिण अफ्रीका में पहली बार पाए गए कोरोना के नए वैरिएंट ओमीक्रोन के बाद यह इमरजेंसी बैठक होने जा रही है।

नए वैरिएंट को लेकर भारत सतर्क


कोराना के नए वैरिएट को लेकर भारत भी सतर्क हो गया है। भारत ने ब्रिटेन, चीन, दक्षिण अफ्रीका और ब्राजील, समेत कई देशों को कोरोना के 'जोखिम' वाले देशों की श्रेणी में शामिल किया है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से उन देशों की सूची में हांगकांग और इजराइल को भी जोड़ा गया है जहां से यात्रियों को भारत आने पर अतिरिक्त उपायों का पालन करने की जरूरत होगी।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने सबसे पहले दक्षिण अफ्रीका में पाए गए कोरोना वायरस के नए वैरिएंट बी.1.1.529 को ओमीक्रोन नाम दिया है और इसे 'वैरिएंट आफ कंसर्न' की केटेगरी में रखा है। इस केटेगरी में अत्यधिक संक्रामक वाले वैरिएंट को रखा जाता है। डेल्टा वैरिएंट को भी इसी श्रेणी में रखा गया था।

रूस में हो रही रिकॉर्ड मौतें

वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाईजेशन ने सभी देशों से इस वैरिएंट को लेकर निगरानी और सीक्वेंसिंग बढ़ाने को कहा है ताकि इसे और बेहतर तरीके से समझा जा सके। नए वैरिएंट के सामने आने से पहले ही ब्रिटेन, जर्मनी और रूस समेत यूरोप और अन्य क्षेत्रों के कई देशों में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे थे। रूस में तो इसके कारण रिकार्ड संख्या में लोगों की मौतें भी हो रही थीं।

Related Links