तोड़ा कोरोना प्रोटोकोल : चेन्नई में भीड़ ने एक-दूसरे को खिलाए लड्डू



बच्चें व महिलाएं भी साथ दिखी, चुनाव आयोग ने कहा – एफआईआर दर्ज करो

वेब खबरिस्तान, नई दिल्ली । आज पांच राज्यों में चुनाव के नतीजे आ रहे हैं। चुनाव आयोग की ओर से दी गई सख्त हिदायतों के बावजूद जीत का सुपर स्प्रेडर जश्न जारी है। तमिलनाडु के चेन्नई में डीएमके मुख्यालय के सामने कार्यकर्ताओं ने जश्न मनाया व एक-दूसरे को लड्डू खिलाए। महिलाएं व  बच्चे भी उनके साथ थे । ये तस्वीरें देख चुनाव आयोग ने पांचों राज्यों के चीफ सेक्रेटरी को तुरंत निर्देश दिए कि ऐसा जश्न मनाने पर एफआईआर  दर्ज की जाए।

मद्रास हाईकोर्ट ने फटकार लगाई थी


कोरोना की वजह से बिगड़ रहे हालात के बीच मद्रास हाईकोर्ट ने पिछले सोमवार को चुनाव आयोग को कड़ी फटकार लगाई थी। चीफ जस्टिस ने तो ये कह दिया था कि कोरोना की दूसरी लहर के लिए चुनाव आयोग जिम्मेदार है। आयोग को चेतावनी दी गई कि 2 मई को काउंटिंग के दिन के लिए कोविड प्रोटोकॉल बनाए जाएं और उनका पालन हो। अगर ऐसा नहीं हुआ तो हम काउंटिंग शेड्यूल को रोकने पर मजबूर हो जाएंगे।

काउंटिंग को लेकर हाईकोर्ट की 6 टिप्पणियां

  • सुनिश्चित करें कि काउंटिंग के दिन कोविड प्रोटोकॉल पर अमल हो।
  • किसी भी सूरत में राजनीतिक या गैर-राजनीतिक वजह से काउंटिंग का दिन कोरोना के मामलों को बढ़ाने के लिए जिम्मेदार नहीं होना चाहिए।
  • काउंटिंग तरीके से हो या फिर उसे टाल दिया जाए।
  • लोगों की सेहत सबसे अहम है। प्रशासन को इस बात की याद दिलानी पड़ती है।
  • जब नागरिक जिंदा रहेंगे,  तभी अधिकारों का इस्तेमाल कर पाएंगे, जो उन्हें इस लोकतांत्रिक गणराज्य में मिले हैं। आज के हालात जिंदा रहने और लोगों को बचाए रखने के लिए हैं,  बाकी सारी चीजें इसके बाद आती हैं।

Related Links