एलन मस्क और जेफ बेजोस की इस लिस्ट में शामिल हुए मुकेश अंबानी



भारतीय दिग्गज कारोबारी मुकेश अंबानी 100 अरब डॉलर क्लब में शामिल

वेब ख़बरिस्तान। मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में तगड़ा उछाल आने बाद उनकी संपत्ति 110.6 अरब डॉलर हो गई और वह 100 अरब डॉलर क्लब में शामिल हो गए। इस क्लब में एलन मस्क और जेफ बेजोस समेत कुल 11 लोग हैं। सिर्फ इसी साल मुकेश अंबानी की दौलत करीब 23.8 अरब डॉलर बढ़ी है।

एशिया के सबसे अमीर शख्स मुकेश अंबानी 100 अरब डॉलर क्लब में शामिल हो गए हैं। इस क्लब में ऐमजॉन के जेफ बेजोस और टेस्ला के एलन मस्क पहले से ही शामिल हैं। मुकेश अंबानी इस क्लब में इसलिए पहुंचे, क्योंकि शुक्रवार को उनकी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर तेजी से ऊपर चढ़ गए। ब्लूमबर्ग बिलियनेर इंडेक्स के मुताबिक अब उनकी दौलत 100.6 अरब डॉलर की हो गई है। सिर्फ इसी साल मुकेश अंबानी की दौलत करीब 23.8 अरब डॉलर बढ़ी है।


मुकेश अंबानी ने जिस 100 बिलियन डॉलर क्लब में एंट्री मारी है, उसमें अब उन्हें मिलाकर कुल 11 लोग हैं। मुकेश अंबानी के अलावा इस लिस्ट में 222 अरब डॉलर के साथ पहले नंबर पर हैं एलन मस्क, दूसरे नंबर पर हैं जेफ बेजोस और तीसरे नंबर पर हैं बर्नार्ड अरनॉल्ड। मुकेश अंबानी अभी इस लिस्ट में 11वें पायदान पर हैं। इनके अलावा 100 अरब डॉलर क्लब में बिल गेट्स, लैरी पेज, मार्क जुकरबर्ग, सर्जी ब्रिन, लैरी एलिसन, स्टीव बाल्मर और वॉरेन बफे भी हैं।

अपने पिता धीरूभाई अंबानी से बिजनेस की बागडोर 2005 में अपने हाथ में लेने के बाद से ही मुकेश अंबानी बिजनेस को आगे बढ़ाने के लिए काम करते रहे। एनर्जी सेक्टर में दिग्गज रिलायंस इंडस्ट्री को वह तेजी से रिटेल, टेक्नोलॉजी और ई-कॉमर्स में भी दिग्गज बनाने की कोशिशों में लगे हुए हैं। 2016 में ही उन्होंने टेलीकम्युनिकेशन सेवा रिलायंस जियो के नाम से शुरू की और आज के समय में जियो का भारत के बाजार पर दबदबा है। रिटेल सेक्टर में भी मुकेश अंबानी तेजी से आगे बढ़ रहे हैं।

मुकेश अंबानी के जियो प्लेटफॉर्म्स में तो एक से एक दिग्गज विदेशी कंपनियों ने तगड़ा निवेश किया है। जियो प्लेटफॉर्म्स के लिए कंपनी को करीब 15 दिग्गज कंपनियों से लगभग 1.5 लाख करोड़ रुपये का निवेश मिला है। इस कंपनी में मुकेश अंबानी ने 32.97 फीसदी हिस्सेदारी इन कंपनियों को बेची है, जिसके बदले भारी भरकम निवेश जुटाया है। जियो प्लेटफॉर्म्स को फेसबुक, गूगल, सऊदी अरब की सरकार, यूएई की सरकार, अबु धाबी की सरकार, सिल्वर लेक, इंटेल कॉर्पोरेशन समेत 15 दिग्गजों से निवेश मिला है।

Related Links