गुजरात में  4 वर्षीय कैंसर पीड़ित बच्ची की माइक्रोवैस्कुलर प्लास्टिक सर्जरी, देश का पहला मामला



बच्ची के जबड़े को माइक्रोवैस्कुलर सर्जरी की मदद से  दोबारा स्थापित किया

अहमदाबाद। गुजरात के कैंसर रिसर्च इंस्टिट्यूट के डॉक्टरों ने 4 वर्षीय कैंसर पीड़ित बच्ची के जबड़े को माइक्रोवैस्कुलर सर्जरी की मदद से  दोबारा स्थापित किया। जीसीआरआई के डॉक्टरों का कहना है कि यह देश में पहला मामला है। देश-दुनिया में दुर्लभ माने जाने वाले कैंसर से पीड़ित 4 साल की इस बच्ची के जबड़े पर डॉक्टरों ने प्लास्टिक सर्जरी की है। जूनागढ़ की रहने वाली जेनाब के जबड़े में गांठ पाई गई थी। यह एक तरह का दुर्लभ ट्यूमर है। 4 साल की बच्ची में भी यह पहला मामला था।

परिवार वाले थे परेशान  


कम उम्र में इतना गंभीर ट्यूमर पता चलने पर बच्ची के परिवारवाले बहुत चिंतित थे। इलाज के लिए विभिन्न अस्पतालों में ले जा रहे डॉक्टर भी इस तरह के ट्यूमर को देखकर दंग रह गए। डॉक्टरों ने जेनाब के परिवार के सदस्यों को इस तरह की गंभीर सर्जरी की सलाह केवल अहमदाबाद के सिविल मेडिसिटी की जीसीआरआई में दी थी।

Related Links