हिमाचल विधानसभा भवन के बाहर खालिस्तानी झंडा लगाने वाला दूसरा आरोपी गिरफ्तार

धर्मशाला के तपोवन स्थित हिमाचल प्रदेश विधानसभा भवन के बाहर झंडे लगाए गए थे।

धर्मशाला के तपोवन स्थित हिमाचल प्रदेश विधानसभा भवन के बाहर झंडे लगाए गए थे।



सौरभ कुमार, धर्मशाला ।  हिमाचल प्रदेश विधानसभा परिसर में 8 मई को खालिस्तान के बैनर टांगने के मामले में पंजाब पुलिस और हिमाचल पुलिस एसआईटी की संयुक्त टीम ने दूसरे आरोपी परमजीत सिंह को गिरफ्तार किया है। परमजीत सिंह पंजाब के रोपड़ जिले के चमकौर साहिब इलाके के रूरकी हीरा गांव का रहने वाला है।

मामले की जांच कर रही हिमाचल पुलिस की एसआईटी ने इससे पहले इसी मामले में मोरिंडा निवासी हरबीर सिंह को गिरफ्तार किया था। उसे 16 मई तक पुलिस रिमांड में भेजा गया है। नाम न छापने की शर्त पर हिमाचल पुलिस के अधिकारियों ने परमजीत सिंह की गिरफ्तारी की पुष्टि की।

चमकौर साहिब के गांव सैदपुर से पकड़ा परमजीत


पंजाब की जिला रोपड़ पुलिस ने आरोपी परमजीत सिंह को रोपड़ के चमकौर साहिब क्षेत्र के गांव सैदपुर से गिरफ्तार किया है। रोपड़ पुलिस शनिवार को उसे  हिमाचल पुलिस को सौंपेगी।

ये है मामला

हिमाचल की पोलिटिकल कैपिटल धर्मशाला के तपोवन स्थित हिमाचल प्रदेश विधानसभा भवन के बाहर 7 तारीख की रात अज्ञात लोगों ने खालिस्तान के झंडे लगा दिए, दीवारों पर पंजाबी में नारे लिखे गए थे। सुबह होते ही जब लोगों को इस बारे में पता चला तो पुलिस को सूचित किया गया था। पुलिस टीम मौके पर पहुंची और विधानसभा के मुख्यद्वार के साथ लगाए गए झंडे व लिखे खालिस्तान को हटाया गया थआ। 

बीते दिनों खालिस्तान समर्थक गुरवंत पन्नू की तरफ से लगातार हिमाचल में खालिस्तान के झंडे फहराने की धमकियों का सिलसिला बढ़ा है।यहां तक की  मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर सहित भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा को संबोधित करते हुए संदेश जनता को फोन के माध्यम से दिए जा रहे थे। उसके बाद खालिस्तान के झंडे लगाकर पंजाब से आने वाले कुछ युवक अपने मोटरसाइकिलों व अन्य वाहनों में यह झंडे लगाकर आ रहे थे जिन्हें पुलिस ने उतरवाया भी था। शिमला में भी इस तरह के झंडे लगाने संबंधित धमकियां दी जा रही थी। 

 

विधानसभा भवन के बाहर झंडे लगाने का वीडियो देखने के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करें

https://fb.watch/cSZ90d-GhQ/

Related Links