देव भूमि हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) ने सीमाएं खोलीं



कोरोना के कारण 181 दिन बाद आम लोगों के लिए खुला हिमाचल प्रदेश

हिमाचल प्रदेश @wk


कोरोना के कारण 181 दिन बाद बुधवार यानि 16 सितंबर से हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) की सीमाएं देश के हर नागरिक के लिए खुल गई हैं। किसी को कोविड 19 ई-पास सॉफ्टवेयर में पंजीकरण नहीं करवाना होगा। न कोविड की निगेटिव रिपोर्ट लानी होगी और न होटलों में एडवांस बुकिंग करवानी होगी। बाहर से आने वाले क्वारंटीन भी नहीं होंगे। मंगलवार को जयराम कैबिनेट की बैठक में यह बहुप्रतीक्षित फैसला लिया।

कैबिनेट में फैसला हुआ कि बाहर से आने वालों में यदि कोरोना के लक्षण दिखें तो उन्हें बॉर्डर पर ही रोक दिया जाएगा। टेस्ट लेने पर जरूरत पड़ी तो अस्पताल में भर्ती किया जाएगा। वहीं अभी सरकार ने अंतरराज्यीय बसों चलाने का फैसला नहीं किया है।

जयराम मंत्रिमंडल पर केंद्र के उस निर्देश का दबाव था, जिसमें प्रदेश में प्रवेश को लेकर सभी शर्तें हटाने को कहा था। पिछली कैबिनेट में सरकार ने कोविड-ई पास की व्यवस्था को तो खत्म किया था। लेकिन प्रदेश में बाहर से कोरोना के प्रभाव को रोकने के लिए पंजीकरण की व्यवस्था जारी रखी थी। केंद्र के लगातार तल्ख तेवरों के बाद आखिरकार प्रदेश सरकार ने राज्य की सीमाएं खोलने का एलान कर दिया। 

Related Links