सुप्रीम कोर्ट में कोरोना की एंट्री, 7 जज औऱ 250 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव

7 जजों समेत 250 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव

7 जजों समेत 250 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव



संसद में पहले ही हो चूका है कोरोना ब्लास्ट

वेब ख़बरिस्तान। कोरोना का कहर चारों तरफ हाहा कार मचा रहा है। ऐसे में कोविड-19 अब संसद से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच चुका है। कहने का मतलब की देश में कोरोना विस्फोट हो रहा है। आपको बता दें अब सुप्रीम कोर्ट में भी कोरोना की एंट्री हो चुकी है। सोमवार को सुप्रीम कोर्ट के 7 जज और करीब 250 कर्मचारी कोविड पॉजिटिव पाए गए हैं। संक्रमितों में सुप्रीम कोर्ट के सेक्रेटरी जनरल भी शामिल हैं। फिलहाल वह होम आइसोलेशन में हैं। इसके साथ ही कुछ स्टाफ को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है।

जजों के कोरोना पॉजिटिव होने से देश में बढ़ी चिंता  


आपको बता दें रविवार को सुप्रीम कोर्ट में रजिस्ट्री स्टाफ के लगभग 150 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गयी थी। और इनमे 4 जज भी शामिल हैं। सर्वोच्च न्यायालय में CJI एनवी रमणा सहित 32 जज हैं। वहीँ न्यायाधीशों के संक्रमित होने से देश में अब चिंता बढ़ती जा रही है। इससे पहले संसद के करीब 400 कर्मचारी-सुरक्षाकर्मी भी कोरोना की चपेट में आ चुकें हैं।

वर्चुअल मोड पर होगी सुनवाई

देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने फैसला लिया था कि 7 जनवरी से पूरी तरह से वर्चुअल मोड पर ही  सुनवाई की जाएगी। वहीँ सुप्रीम कोर्ट ने अपने सभी जजों को आवासीय ऑफिस में काम करने को कहा है। इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने एक सर्कुलर जारी किया जिसमे 10 जनवरी से केवल बहुत जरूरी मामलों, फ्रेश मैटर, बेल मैटर्स, डिटेंशन और तय तारीख के केस ही सूचीबद्ध किए जाएंगे।

संसद में पहले ही हो चुकी है कोरोना की एंट्री

संसद में काम करने वाले कम से कम 400 कर्मचारी और सुरक्षाकर्मी कोरोना संक्रमित हो चुकें हैं। बताया जा रहा है कि 6 और 7 जनवरी के बीच संसद में काम करने वाले कर्मचारियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि   हुई थी। अधिकारियों ने बताया कि 4 से 8 जनवरी के बीच संसद के 1,409 कर्मचारियों में से 402 स्टाफ सदस्य कोरोना पॉजिटिव पाए गये थे। जिसके बाद उनके सैंपल को जीनोम स्विकेंसिंग के लिए भेजा गया था।

Related Links