लालू ने पूरी नहीं की सजा की आधी अवधि – सीबीआई

lalu

lalu



चारा घोटाले में जमानत याचिका पर कोर्ट में सुनवाई

रांची @wkसीबीआइ ने लालू प्रसाद यादव की जमानत का विरोध किया है। चारा घोटाले में जेल में बंद राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव की जमानत को लेकर सीबीआई ने झारखंड हाई कोर्ट में जवाब दाखिल किया है। सीबीआई के मुताबिक लालू यादव जिस मामले में जमानत मांग रहे हैं। उसमें उन्होंने सजा की आधी अवधि पूरी नहीं की है। सीबीआइ ने सीआरपीसी की धारा 427 का मुद्दा भी उठाया। सीबीआइ का कहना है कि दुमका कोषागार मामले में लालू यादव ने एक दिन भी जेल की सजा नहीं काटी है। लालू ने दुमका मामले में ही जमानत याचिका दाखिल की है।


काबिले जिक्र है कि लालू यादव पर झारखंड में कुल पांच मामले चल रहे हैं। चार में उन्हें सजा हो चुकी है। चाईबासा के दो व देवघर मामले में लालू को जमानत मिल चुकी है। दुमका कोषागार वाले में उन्होंने हाईकोर्ट में जमानत याचिका दाखिल की है। वहीं, डोरंडा कोषागार मामले में निचली अदालत में सुनवाई चल रही है। दुमका मामले में जमानत मिलने पर वह जेल से बाहर आ जाएंगे। याचिका पर 27 नवंबर को हाईकोर्ट में सुनवाई होगी।

क्यों उठाया धारा 427 का मुद्दा

सीआरपीसी की धारा 427 के तहत सजायाफ्ता किसी व्यक्ति को दूसरे मामले में दोबारा सजा सुनाई जाती है, तो सजा लगातार चलती है। मगर इसके लिए निजी अदालत इसकी पुष्टी करती है। सीबीआइ का दावा है कि लालू के मामले में भी निचली अदालत ने सजा साथ चलाने को लेकर कोई स्पष्ट आदेश नहीं दिया है और न ही लालू ने निचली अदालत में कोई आवेदन दिया है। ऐसे में पहली सजा पूरी होने के बाद ही दूसरी सजा शुरू मानी जाएगी।

Related Links