बड़ा फैसला - दिल्ली में कल से सभी स्कूल बंद, सुप्रीम कोर्ट ने लगाई थी फटकार

प्रदूषण से बिगड़ते हालात को देखते हुए स्कूल बंद करने का फैसला लिया

प्रदूषण से बिगड़ते हालात को देखते हुए स्कूल बंद करने का फैसला लिया



केजरीवाल सरकार ने शुक्रवार से सभी स्कूल बंद करने की घोषणा की है।

वेब ख़बरिस्तान,नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद दिल्ली सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। केजरीवाल सरकार ने शुक्रवार से सभी स्कूल बंद करने की घोषणा की है। पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा है कि प्रदूषण से बिगड़ते हालात को देखते हुए स्कूल बंद करने का फैसला लिया है। स्कूल कब से खुलेंगे अभी इस पर कोई फैसला नहीं किया।

कोर्ट ने दिया था 24 घंटे का समय


आज ही कोर्ट ने केंद्र, दिल्ली और पड़ोसी राज्यों की सरकार को फटकार लगाते हुए 24 घंटे का समय दिया था। कोर्ट द्वारा केंद्र से कहा गया था कि अगर प्रदूषण कम करने के लिए 24 घंटे में कड़े कदम नहीं उठाए गए तो सुप्रीम कोर्ट टास्क फोर्स का गठन करेगा। चीफ जस्टिस एनवी रमणा ने कार्यवाही के दौरान केंद्र से पूछा है कि आखिर प्रदूषण कम क्यों नहीं हो रहा है।

बच्चों को स्कूल जाने के लिए फ़ोर्स क्यों कर रहे

सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार को फटकार लगाते हुए पूछा है कि जब कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम दे दिया है तो फिर बच्चों को स्कूल जाने के लिए क्यों फोर्स किया जा रहा है। सरकार ने हमें एफिडेविट में बताया था कि स्कूल बंद कर दिए गए हैं, मगर ऐसा नहीं हुआ है। कोर्ट ने दिल्ली सरकार से पूछा कि आपने जो एफिडेविट लगाए हैं, क्या उसमें बताया गया है कि कितने युवा प्रदूषण पर जागरुकता का बैनर लेकर सड़क पर खड़े हैं? क्या यह प्रचार के लिए किया जा रहा है? उनके स्वास्थ्य की किसी को चिंता है या नहीं। दिल्ली सरकार ने कोर्ट को बताया कि बैनर लेकर खड़े युवा स्वयंसेवक थे।

दरअसल दिल्ली सरकार की ओर से कुछ युवाओं ने सड़क किनारे खड़े होकर रेड लाइट पर 'कार का इंजन बंद' करने की अपील की थी। इन पोस्टर्स में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की भी फोटो थी।

Related Links