कोरोना संक्रमण आजम खान के फेफड़े तक पहुंचा, मेदांता अस्पताल के आईसीयु में शिफ्ट



यूपी के रामपुर से सांसद व समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान की हालत नाजुक है। रविवार को उन्हें सीतापुर जेल से लखनऊ के मेदांता अस्पताल लाया गया था

वेब खबरिस्तान, लखनऊ। यूपी के रामपुर से सांसद व समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान की हालत नाजुक है। रविवार को उन्हें सीतापुर जेल से लखनऊ के मेदांता अस्पताल लाया गया था। सोमवार देर शाम उन्हें सांस लेने में ज्यादा दिक्कत होने लगी जिसके बाद डॉक्टर्स ने उन्हें आईसीयु में शिफ्ट किया।

ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखा


अस्पताल के प्रशासन ने देर रात मेडिकल बुलेटिन जारी किया। इसमें बताया कि 72 साल के आजम खान को ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखा गया है। उन्हें हर घंटे 10 लीटर ऑक्सीजन की जरूरत पड़ रही है। आजम खान व  उनके बेटे अब्दुल्ला पिछले 14 महीने से सीतापुर जेल में बंद थे। दोनों ही 1 मई को कोरोना संक्रमित पाए गए थे। अभी तक जेल में इलाज चल रहा था, लेकिन ऑक्सीजन लेवल कम होने के बाद रविवार को उन्हें लखनऊ के मेदांता अस्पताल में शिफ्ट किया गया। आजम के साथ उनके बेटे अब्दुल्ला को भी मेदांता में ही भर्ती कराया गया है।

मार्च 2020 में पत्नी-बेटे के साथ जेल गए थे आजम

आजम, उनकी पत्नी विधायक तंजीन फातिमा और बेटे अब्दुल्ला के खिलाफ फरवरी 2020 में रामपुर के अपर जिला न्यायाधीश धीरेंद्र कुमार की अदालत ने कुर्की का वारंट जारी किया था। रामपुर के गंज थाने में आकाश सक्सेना ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी। आरोप लगाया गया था कि अब्दुल्ला आजम खान ने 28 जनवरी 2012 और 21 अप्रैल 2015 को नगर निगम रामपुर से दो जन्म प्रमाण पत्र जारी कराया। इसमें अलग-अलग जन्म तिथि है, एक में उनकी जन्म तिथि 1 जनवरी 1993 है, तो दूसरे में 30 सितंबर 1990 है। ऐसा उनके द्वारा सरकारी लाभ व चुनाव लड़ने के लिए किया। अदालत में पेश न होने के कारण तीनों के खिलाफ गैर जमानती वारंट पहले ही जारी किए जा चुके थे। तीनों ने अपर जिला न्यायाधीश की अदालत में समर्पण किया था। उन्हें 2 मार्च 2020 तक के लिए न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया था। 20 दिसंबर को फातिमा जेल से रिहा हुई थीं।

Related Links