11 साल के बच्चे ने खोली अफवाहों की पोल - बिना वैक्सीन लगे भी चिपक रहा लोहा



सोशल मीडिया पर भी बहुत सारे वीडियो वायरल हो रहे

वेब खबरिस्तान, उदयपुर। देशभर में कुछ लोग कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद शरीर में चुंबकीय शक्ति पैदा होने का दावा कर रहे हैं। इसे लेकर सोशल मीडिया पर भी बहुत सारे वीडियो वायरल हो रहे है। लेकिन उदयपुर के नरोत्तम गौड़ और उनके 11 साल के पोते यश ने वैक्सीनेशन को लेकर किए गए इन दावों की पोल खोली।

डॉक्टरों का कहना – शरारती तत्व ऐसा कर रहे

नरोत्तम के मुताबिक - बच्चे को कोई वैक्सीन नहीं लगी है, लेकिन उसके अन्दर चुंबकीय शक्ति होने का दावा किया जा रहा है। साफ है कि वैक्सीन के कारण ऐसा नहीं हो रहा। डॉक्टरों का कहना है कि वैक्सीन को लेकर यह सिर्फ शरारती तत्वों की हरकत है। शरीर में फॉरेन बॉडी होने के कारण ऐसा हो सकता है, लेकिन यह लाखों में से कुछ लोगों में होती है। गर्मी में पसीने से चिपकना ही एक मात्र कारण है।

विडियो देख खुद पर अजमाया


नरोत्तम गौड ने बताया कि मैंने कोरोना वैक्सीन लगवाई थी। तभी सोशल मीडिया पर वैक्सीन लगने के बाद शरीर में चुंबकीय शक्ति पैदा होने की खबरें चल रही थी। इनको देखकर मैंने भी अपने शरीर पर आजमाने का सोचा। मैंने सिक्के और चम्मच शरीर पर रखे, जो चिपक गए। मैं हैरान हो गया।

शंका दूर करने को पोते का सहारा लिया

मैंने अपनी मन की शंका को दूर करने के लिए अपने 11 साल के पोते यश का सहारा लिया। पोते के शरीर पर धातुओं को चिपकाने का प्रयोग शुरू किया। इसके कुछ ही देर बाद यश के शरीर पर भी सिक्के और चम्मच चिपकने लगे। ये देख हम हैरान हो गए, क्योंकि यश को अब तक कोरोना वैक्सीन नहीं लगी थी।

वैक्सीन ही एकमात्र उपाय

उदयपुर के एमबी अस्पताल के अतिरिक्त अधीक्षक रमेश जोशी ने कहा कि इस तरह की बातें पूरी तरह गलत और निरर्थक हैं। देश की नहीं बल्कि पूरी दुनिया में कोरोना वैक्सीन ही संक्रमण से बचाने का एकमात्र उपाय है। इससे किसी तरह की चुंबकीय शक्ति पैदा नहीं हो रही है।

देश में तेजी से फैल रही अफवाह

पिछले कुछ दिनों से देशभर में वैक्सीन के बाद शरीर में चुंबकीय गुण पैदा होने की बातें कही जा रही है। देश के महाराष्ट्र, राजस्थान और दिल्ली से कुछ ऐसे वीडियो भी वायरल हुए हैं। इनमें लोग वैक्सीन लगने के बाद शरीर पर लोहे और अन्य धातु की वस्तुएं चिपका कर बता रहे हैं।

Related Links