सिवनी की केवलारी तहसील में राहत राशि घोटाले के मामले में दो आरोपी काबू



फर्जीवाड़ा कर खातों में जमा राशि को निकलवाकर कमीशन लेने के बाद वापस लिपिक तक पहुंचाने वाले बिचौलियों के तौर पर काम करने वाले दो चचेरे भाइयों को केवलारी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

सिवनी (वार्ता) मध्यप्रदेश के सिवनी जिले की केवलारी तहसील में राहत राशि ग्यारह करोड सोलह लाख के नियम विरूद्ध भुगतान के मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर रिमांड में लिया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार तहसील केवलारी में राहत राशि के भुगतान के मामले में फर्जीवाड़ा कर खातों में जमा राशि को निकलवा कर अपना कमीशन लेने के बाद वापस लिपिक तक पहुंचाने वाले बिचौलियों के तौर पर काम करने वाले दो चचेरे भाइयों को केवलारी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। 

आगे की पूछताछ की जा रही है

गिरफ्तार आरोपितों में श्रेष्ठ अवधिया एक निजी बैंक का कर्मचारी बताया जा रहा था जबकि विशेष अवधिया भी उसके साथ काम करता था। सूत्रों के मुताबिक 11.16 करोड़ रुपये का घोटाला करने वाले फरार लिपिक सचिन दहायत से दोनों आरोपितों की गहरी दोस्ती थी। गिरफ्तार आरोपियों को पुलिस ने न्यायालय में पेश कर दिया है। न्यायालय ने दोनों को 25 नवंबर तक पुलिस रिमांड में भेजा है। आरोपितों से प्रकरण में मामले में आगे की पूछताछ की जा रही है।


घर में परिवार के लोग नहीं मिले

पुलिस को निजी खातों में जमा आरोपितों के 4 से 5 बैंक खातों की जानकारी मिली है, इन बैंक खातों में जमा राशि को खंगाला जा रहा है। साथ ही यह भी देखा जा रहा है कि इन बैंक खातों में कितना लेनदेन किया गया है। प्रशासन ने आरोपियों के घरों पर भी दबिश देना प्रारंभ कर दिया है, बीते दिवस सोमवार की गई कार्यवाही में पुलिस को चचेरे भाईयों के घर में कीमती सोने-चांदे के जेवर नहीं मिले हैं। कार्रवाई के दौरान घर में परिवार के लोग नहीं मिले।

मध्यप्रदेश के सिवनी जिले में अवैध वसूली मामले में छह पुलिसकर्मी निलंबित

सिवनी (वार्ता) मध्यप्रदेश के सिवनी जिले में हाईवे पर अवैध वसूली करने के मामले में छह पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। पुलिस अधीक्षक रामजी श्रीवास्तव ने हाईवे पर तैनात छह पुलिसकर्मियों को अवैध रुप से वसूल करने के मामले में तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। सोमवार को लखनादौन मार्ग पर वाहनों की रफ्तार रोकने व चालानी कार्रवाई के लिए लगाया गया था। पुलिस कर्मी ओवर लोडिंग वाहनों को रोक कर अवैध वसूली कर रहे थे। पुलिस अधीक्षक ने अवैध वसूली करते पाए यातायात के दो एएसआई मुकेश डेहरिया, गौरव मर्सकोले व चार आरक्षक धर्मचंद, राजा पवार, रामता, युवराज नागेश्वर को निलंबित किया है।

मध्यप्रदेश के शहडोल जिले में पुत्र की हत्या के मामले में पिता किया गिरफ्तार

शहडोल (वार्ता) मध्यप्रदेश के शहडोल जिले में एक व्यक्ति ने अपने पुत्र से तंग आकर उसकी हत्या कर दी। पुलिस सूत्रों ने आज बताया कि जैतपुर थाना क्षेत्र के पचरवार गांव में पिता चमरु ने अपने शराबी पुत्र मोहेलाल की टंगिया से मारकर हत्या कर दी। बताया गया कि मृतक शराब की लत के साथ ही वह कोई काम नहीं करता था और घर के सदस्यों के साथ मारपीट करता था। घटना के दिन मोहेलाल ने अपने पिता चमरू से मारपीट की थी, चमरू ने पलटकर टंगिया से मोहे को मारा, तो चह मर गया। बाद में मृत्यु को दुर्घटना बताने के लिए शव को बाइक के साथ गाँव के बाहर फेंक दिया गया। इस मामले में पुलिस ने पिता को गिरफ्तार कर लिया है।

व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाईन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें

https://chat.whatsapp.com/LVthntNnesqI4isHuJwth3

 

Related Tags


Seoni Two accused arrested case relief amount scam Kevalari tehsil Seoni Madhya Pradesh Mp News State News Khabristan News News

Related Links


webkhabristan