नानी-दोहिते की कुल्हाड़ी से वार कर की हत्या, 70 तोले सोने-चांदी के गहने गायब

आंगन में दोनों की लहूलुहान लाशें पड़ी थीं

आंगन में दोनों की लहूलुहान लाशें पड़ी थीं



एक घर में नानी-दोहिते की हत्या कर दी गई

वेब ख़बरिस्तान,नागौर। सोमवार देर शाम एक घर में नानी-दोहिते की हत्या कर दी गई। घर में दोनों के अलावा कोई नहीं था। दरअसल मृतका का पति किसी काम से नागौर गया हुआ था और बेटा जोधियासी में अपनी मेडिकल दूकान पर गया हुआ था। जबकि उसकी पत्नी बच्चों सहित पीहर गई हुई थी। देर शाम जब सभी घर पहुंचे तो इस डबल मर्डर का खुलासा हुआ।

आरोपी सात लाख रूपए लूट ले गए

आंगन में दोनों की लहूलुहान लाशें पड़ी थीं। परिजनों का संदेह है कि आरोपी सात लाख रुपए भी लूट ले गए। सूचना मिलने के बाद नागौर सीओ और सदर पुलिस मौके पर पहुंची। शव नागौर स्थित जेएलएन हॉस्पिटल की मोर्चरी में रखवाए गए हैं। पुलिस ने देर रात तीन संदिग्धों को डिटेन किया है और पूछताछ की जा रही है।


सीओ विनोद कुमार सीपा ने बताया कि मालगांव निवासी धापू देवी पत्नी धर्माराम ढाका (55) और उनके दोहिते नरेंद्र पुत्र शिवलाल निवासी कालड़ी (18) की हत्या हुई है। दोनों के चेहरों पर धारदार हथियारों से हमला किया गया था। इस मामले में तीन संदिग्धों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। फिलहाल इन्वेस्टिगेशन चल रही है।

अपराधियों को कानून का खौफ नहीं रहा

नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने डीजीपी एमएल लाठर से बात कर मामले में विशेष टीम का गठन करके अपराधियों की गिरफ्तारी करने की बात कही है। सांसद बेनीवाल ने कहा कि नागौर शहर के पास दिन-दहाड़े ऐसी घटना हो जाना जिले में पुलिस के खत्म होते इकबाल को दिखा रहा है। अपराधियों में कानून का कोई खौफ नहीं रहा है, इसलिए ऐसी घटनाएं बढ़ रही हैं। इस तरह की गंभीर घटनाओं में रेंज आईजी को भी मौके पर जाकर मामले में मॉनिटरिंग करते हुए कार्रवाई करने की जरूरत है।

धापू के कान के पास गहरी चोट का निशान

प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि पहले दोहिते की हत्या की गई। इसके बाद संभवत जब आरोपी उसके शव को बोरी से छिपाने का प्रयास कर रहे थे,तो उसकी नानी वहां पहुंच गई होगी। इसके चलते आरोपियों ने उसके सिर पर भी कुल्हाड़ी से हमला कर दिया। धापू के कान के पास गहरी चोट का निशान देखा गया है। इसके उसकी भी वहीं मौके पर ही मौत हो गई।

Related Links