20 किलो मूंग चुराने के आरोप में इतना पीटा कि आदमी ने दे दी अपनी जान



पल्लेदार ने पिटाई के अपमान से दुखी होकर सुसाइड कर लिया

वेब खबरिस्तान, जबलपुर। पाटन मंडी में पल्लेदार ने पिटाई के अपमान से दुखी होकर सुसाइड कर लिया। दरअसल पल्लेदार पर दुकानदार के बेटों ने चोरी का आरोप लगाया था और थाने के 3 सिपाहियों के साथ मिलकर पहले सबके सामने और फिर शटर बंद करके बेरहमी से मारा-पीटा। इस अपमान से दुखी होकर पल्लेदार घर पहुंचा। फिर उसने कमरे में फंदा लगाकर अपनी जान दे दी। उसकी पत्नी ने एसपी आफिस पहुंच कर इंसाफ की गुहार लगाई है। आरोपी पुलिस कर्मियों के खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज करने की मांग की।

30 साल से पल्लेदारी करता था


चौधरी मोहल्ला निवासी सुरेश अहिरवार (55) अनाज मंडी में 30 साल से पल्लेदार था। पत्नी लाडली बाई ने बताया कि पति को अनाज मंडी में सिंघई ट्रेडर्स के मुनीम संदीप ने 20 किलो मूंग बेच कर पैसा लाने को कहा। सुरेश पैसे लेकर जब पहुंचा तो वहां दुकानदार के बेटे पंकज और कित्तू ने उसे पकड़ लिया। थोड़ी ही देर में पाटन थाने में पदस्थ जवान फिरोज सहित तीन आरक्षक वहां पहुंचे।

कुछ लोगो ने बनाया वीडियो

पत्नी लाडली ने बताया उसके पति पर मूंग चोरी का आरोप लगाते हुए पंकज, कित्तू और तीनों सिपाही ने बेरहमी से मारपीट की। पहले सबके सामने मारपीट करते रहे। जब कुछ लोग वीडियो बनाने लगे तो उसके पति को दुकान के अंदर ले गए। वहां शटर बंद कर बेरहमी से मारापीटा। इसकी जानकारी साथी पल्लेदारों ने बाद में दी थी। सुरेश बुझे मन से घर लौटा और पानी पीकर छत पर बने कमरे में सोने चला गया था।

खाना बनाकर पति को बुलाने गई तो फंद से लटके मिले

पत्नी लाडली ने बताया कि वह रात आठ बजे खाना बनाकर पति को बुलाने पहुंची तो वे फंदे से लटके हुए मिले। मेरी चीख सुनकर पड़ोस में रहने वाला देवर चंद चौधरी दौड़ कर आया। रस्सी काटकर पति को फंदे से उतारा गया। सूचना पाकर गांव का कोटवार डब्बू भी पहुंचा और पाटन थाने में इसकी सूचना दी।

Related Links