72 साल के आशिक ने महिला मित्र को मारकर शव हाईवे पर फेंका

आरोपी रिटायर्ड अधिकारी भगवत प्रसाद और उसके नौकर परशुराम से पुलिस पूछताछ की

आरोपी रिटायर्ड अधिकारी भगवत प्रसाद और उसके नौकर परशुराम से पुलिस पूछताछ की



रिटायर्ड हेल्थ ऑफिसर ने अपनी महिला मित्र की हत्या कर शव हाईवे पर फेंक दिया।

वेब ख़बरिस्तान,झांसी। 72 वर्षीय एक रिटायर्ड हेल्थ ऑफिसर ने अपनी महिला मित्र की हत्या कर उसका शव हाईवे पर फेंक दिया। हत्या के बाद वह 5 बार शव देखने भी गया। दरअसल रिटायर्ड ऑफिसर की पत्नी की मौत के बाद घर के पास रहने वाली महिला से उसके प्रेम संबंध बन गए थे। जब महिला ने नशे में संबंधों का खुलासा करने की धमकी दी, तो बदनामी के डर से उसने महिला को मार दिया। हत्या का सुराग सरसों के पत्तों से मिला।

मकान में हत्या की, मगर शव ठिकाने नहीं लगा पाया


सीओ डॉ. प्रदीप कुमार ने बताया कि आरोपी रिटायर्ड अधिकारी भगवत प्रसाद और उसके नौकर परशुराम से पुलिस पूछताछ में पता चला कि वारदात 19 दिसंबर को हुई थी। उसने दिन में ही खेत के पास बने मकान में हत्या की, मगर शव को ठिकाने नहीं लगा पाया। हत्या के बाद उसने अंधेरा होने का इंतजार किया। तभी उसने अपने नौकर को शव ठिकाने लगाने के लिए राजी कर लिया।

21 दिसंबर को पुलिस ने हव बरामद किया

दोनों ने देर रात कार से शव को कानपुर हाईवे पर ले गए और उसे सर्विस रोड पर फेंक दिया। भगवत दो दिन में 5 बार शव देखने के लिए मौके पर भी गया। जब 21 दिसंबर को पुलिस ने शव बरामद किया, तो उसे भी इसकी जानकारी मिल गई। मगर उसकी चालाकी काम नहीं आई और 23 दिसंबर को पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया।

दरअसल पुलिस को जब महिला का शव मिला था, तो शव के पास तार और सरसों के पत्ते भी मिले थे। इसके बाद जब पुलिस भगवत के घर पहुंची तो वहां भी उसी तरह का तार बरामद हुआ। मगर दोनों कत्ल से इनकार करते रहे। लेकिन जब पुलिस ने आसपास के सीसीटीवी कैमरे चेक किए तो दोनों देर रात कार से जाते नजर आए। कार की सीट पर खून के निशान और सरसों के पत्ते मिले। पुलिस का शक यकीन में बदल गया। सख्ती से पूछताछ करने पर आरोपियों ने गुनाह कबूल कर लिया।

Related Links