फिल्म 'मासूम सवाल' का पोस्टर चर्चा में, सैनिटरी पैड पर भगवान कृष्ण की फोटो, यूजर ने उठाये सवाल



इस पोस्टर के सामने आने के बाद से सोशल मीडिया पर यूजर्स द्वारा फिल्म के डायरेक्टर और स्टार कास्ट पर धार्मिक भावनाएं आहत करने के आरोप लगाये गये हैं

खबरिस्तान नेटवर्क: 'मासूम सवाल' फिल्म रिलीज के दो पहले ही सुर्ख़ियों में आ गयी है। बता दें डॉक्यूमेंट्री फिल्म 'काली' के पोस्टर विवाद के बाद अब एक और फिल्म का पोस्टर चर्चा का विषय बना हुआ है। दरअसल, 17 जुलाई को एक फ्रिंज फिल्म 'मासूम सवाल' के मेकर्स द्वारा कुछ पोस्टर्स शेयर किए थे। जिसमें से फिल्म के एक पोस्टर में सैनिटरी पैड पर भगवान कृष्ण की दर्शायी गयी है। इस पोस्टर के सामने आने के बाद से सोशल मीडिया पर यूजर्स द्वारा फिल्म के डायरेक्टर और स्टार कास्ट पर धार्मिक भावनाएं आहत करने के आरोप लगाये गये हैं। बता दें 2 दिन बाद ये फिल्म रिलीज होने जा रही है।

धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का कोई मकसद नही

वहीं पोस्टर पर विवाद बढ़ने के बाद फिल्म के डायरेक्टर संतोष उपाध्याय और एक्ट्रेस एकावली खन्ना ने कहा कि मेकर्स का किसी की भी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का कोई इरादा नहीं था। एक्ट्रेस एकावली खन्ना, जो फिल्म में एक वकील की भूमिका ने हैं। उन्होंने पोस्टर विवाद पर कहा, "सबसे पहले, मुझे पोस्टर को मिले किसी भी रिएक्शन के बारे में पता नहीं है, लेकिन अगर ऐसा है तो मैं बस इतना कह सकती हूं कि मेकर्स का किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का कोई इरादा नहीं है।"

अंधविश्वासों और कुरीतियों को तोड़ना है


बता दें कि इस फिल्म का एकमात्र उद्देश्य टेबू को तोड़ना और नरेटिव को बदलना है। इस पीढ़ी में अंधविश्वासों और कुरीतियों के लिए किसी तरह की कोई जगह नहीं है, जो महिलाओं पर अनावश्यक रूप से थोपी जा रही हैं।" सेनेटरी नैपकिन पर एक हिंदू भगवान की फोटो के साथ जाहिर तौर पर धार्मिक भावनाओं को आहत करने को लेकर सोशल मीडिया पर हलचल मची हुई है।

पीरियड को लेकर लोगों को जागरूक करना

इस फिल्म में मेंसुरेशन को लेकर लोगों को जागरूक करना दर्शाया गया है। फिल्म में एक्ट्रेस एक वकील का रोल प्ले कर रही हैं, जो एक बच्ची को उसके संघर्ष पर लगाए गए समाज के नियमों के खिलाफ और परिवार के साथ लड़ने में हेल्प करती है, जो उसकी भावनाओं को नहीं समझते हैं। फिल्म की कहानी पूरी तरह से बच्ची की जर्नी के बारे में है और एक वकील के रूप में एक्टर ने इसका सपोर्ट किया है।"

लोगों का नजरिया गलत है

फिल्म के डायरेक्टर संतोष उपाध्याय ने इस विवाद को लेकर कहा कि कभी-कभी चीजों को देखने का हमारा नजरिया गलत होता है, जो गलत धारणा की ओर ले जाता है। वहीँ ये पूरी फिल्म मासिक धर्म पर आधारित है, इसलिए पैड दिखाना अनिवार्य है। इसलिए पोस्टर पर पैड है, न कि पैड पर कृष्ण जी। जिसके चलते हमें इस फिल्म के प्रमोशन के लिए कम सपोर्ट मिल रहा है। "

5 अगस्त को होगी सिनेमाघरों में रिलीज

संतोष उपाध्याय द्वारा डायरेक्ट की गयी ये फिल्म  मेंसुरेशन और इससे जुड़ी शर्म के बारे में है। इस फिल्म में नितांशी गोयल, एकावली खन्ना, शिशिर शर्मा, मधु सचदेवा, रोहित तिवारी, वृंदा त्रिवेदी, रामजी बाली, शशि वर्मा और अन्य एक्टर्स भी लीड रोल में हैं। कमलेश के मिश्रा ने इस फिल्म की कहानी लिखी है। फिल्म को 'नक्षत्र 27 प्रोडक्शंस' के रंजना उपाध्याय ने प्रोड्यूस किया है। यह फिल्म 5 अगस्त को सिनेमाघरों में रिलीज होगी।

 

Related Tags


masoom sawaldocumentary filmSantosh Upadhyay actress Ekavali Khanna

Related Links